Breaking News
.

दुश्मन देश के प्रति समर्थन व्यक्त करने वालों को कठोरता से कुचल दिया जाएगा : योगी…

लखनऊ। भारत-पाकिस्तान मुकाबले में भारतीय टीम के हारने के बाद देश में मनाए गए कथित जश्न पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रवैया अपनाया है। उन्होंने सख्त होते हुए कहा है कि अगर भारत में रहकर कोई पाकिस्तान से प्रेम दिखाता है तो उसका वही हाल होगा जो सेना करती है। योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की धरती से इस तरह की अराजकता को स्वीकार नहीं करेंगे। अगर कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है तो उसको प्रोत्साहित कीजिए लेकिन दुश्मन देश का गुणगान बर्दाशत नहीं किया जाएगा।

सीएम योगी ने कहा, “कानून को हाथ में लेने की छूट किसी को नहीं देंगे। अगर हिंदुस्तान में रहेंगे तो उन्हें इस देश के प्रति नतमस्तक होना पड़ेगा। हर हाल में भारत के प्रति सम्मान व्यक्त करना होगा।” सीएम योगी ने कहा, “मैच में हार-जीत होती, लेकिन अगर दुश्मन देश के प्रति समर्थन व्यक्त करोगे तो उसी कठोरता के साथ कुचल दिए जाओगे, जिसके हकदार बनोगे। हम अराजकता फैलाने की छूट किसी को नहीं देंगे।”

अखिलेश यादव ने बताया जिन्ना को आजादी का नायक: एक तरफ पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने वाले लोगों को सीएम योगी सख्त संदेश देते नजर आ रहे हैं तो दूसरी तरफ सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने यूपी के हरदोई जिले में मोहम्मद अली जिन्ना को आजादी का नायक बताया। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जिन्ना ने आजादी के लिए संघर्ष किया था।

अखिलेश यादव द्वारा जिन्ना को लेकर दिए गए बयान पर भारतीय जनता पार्टी ने पलटवार किया है। उत्तर प्रदेश भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट में कहा गया है, “अखिलेश यादव मानते हैं कि जिन्ना ने देश को आजादी दिलाई। जबकि सच ये है कि जिन्ना ने देश तोड़कर पाकिस्तान बनाया। क्या अखिलेश देश के टुकड़े करने वाले के साथ हैं? सरदार पटेल की जयंती पर जिन्ना से प्रेम क्यों? अखिलेश यादव माफी मांगें।” बता दें कि उत्तर प्रदेश में 2022 की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में पाकिस्तान की जीत पर कथित जश्न और अखिलेश यादव द्वारा जिन्ना पर दिया गया बयान, चुनावी मुद्दों में शामिल हो सकता है।

error: Content is protected !!