Breaking News
.

पूर्व गृहमंत्री व सांसद रामविचार नेताम के सरकारी बंगले में चोरों का धावा, नकदी व गहने ले उड़े चोर …

अंबिकापुर। पूर्व गृहमंत्री व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के घर चोरों ने धावा बोलकर गहने व नकदी पार कर दिए। अंबिकापुर स्थित VVIP के सरकारी बंगले में चोरों ने सेंध लगाकर पुलिस के सुरक्षा दावों की पोल खोल दी है। चोरी के दौरान बंगले में मौजूद सुरक्षाकर्मी और नौकरों को भनक तक नहीं लगी। चोरों ने दो आलमारियों को तोड़ा और माल पार कर दिया। शिकायत के बाद पुलिस ने रविवार को अपराध दर्ज किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार होली की रात को प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के सरकारी बंगले में चोरी हुई है। घटना वाली रात रामविचार नेताम बंगले में नहीं थे। चोर बंगले में घुस कर आलमारी से सोने के जेवर व नकदी 50 हजार रुपये ले गए। दूसरे दिन इसकी जानकारी होने के बाद निज सहायक सुब्रत चाकी ने गांधी नगर थाने पहुंचकर इसकी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस के अनुसार रामविचार नेताम के सरकारी बंगले से चोरों ने दो अंगूठी, एक हार व 50 हजार रुपये चोरी किए हैं। कुल डेढ़ लाख रुपये का सामान चोरों ने पार किए हैं। शिकायत पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

पूर्व गृहमंत्री व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम का सरकारी आवास शहर के संरक्षित क्षेत्र में है। यहां आईएएस, आईपीएस, जज, एसडीएम व सरकार के बड़े-बड़े अफसरों के बंगले हैं। यही नहीं प्रदेश के शिक्षा मंत्री का सरकारी बंगला भी इसी क्षेत्र में है। वीवीआईपी इलाके में चोरी ने पुलिस के सुरक्षा दावों की पोल खोल दी है। एक तरह से चोर पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। पुलिस का कहना है कि चोर बंगले के मेन गेट का ताला तोड़कर अंदर घुसे थे। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। आसपास लगे CCTV भी खंगाले जा रहे हैं।

सरगुजा एसपी अमित तुकाराम कांबले ने बताया कि पूर्व गृहमंत्री व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के सरकारी आवास पर चोरी हुई है। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है। चोर करीब डेढ़ लाख रुपये का सामान चुरा ले गए हैं। आरोपी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे। इधर वीवीआईपी इलाके में चोरी की खबर अब चर्चा का विषय बन गया है। लोग कहने लगे हैं कि वीवीआईपी के घर ही सुरक्षित नहीं हैं तो फिर आम आदमी की सुरक्षा कैसे होगी। इस वारदात के बाद शहर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवाल उठ रहे हैं।

error: Content is protected !!