Breaking News

ब्लॉक प्रमुख चुनाव को लेकर भाजपायों व सपाइयों में जमकर मारपीट, फायरिंग भी …

नई दिल्ली। यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब ब्‍लॉक प्रमुख के चुनावों को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज हैं। गुरुवार को प्रदेश के अलग-अलग जिलों से चुनाव को लेकर भाजपा और सपा समर्थकों के बीच बवाल, मारपीट, तोड़फोड़, पर्चा फाड़े जाने और यहां तक की फायरिंग की खबरें आ रही हैं। सीतापुर, फतेहपुर, बस्‍ती, गोरखपुर, देवरिया, श्रावस्‍ती, डॉ अंबेडकरनगर सहित कई जिलों से ऐसी खबरें आई हैं। इन अलग-अलग घटनाओं में कुछ लोगों के घायल होने की भी सूचना है। गौरतलब है कि ब्‍लॉक प्रमुख चुनाव के लिए गुरुवार को यूपी के 75 जिलों के 825 ब्लॉक में पूर्वान्ह 11 बजे से शाम तीन बजे तक नामांकन और फिर नामांकन पत्रों की जांच होनी थी।

सीतापुर में नामांकन करने जा रहे एक प्रत्‍याशी को पर्चा नहीं मिलने के आरोप को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए। इसके बाद फायरिंग की गई। इस घटना में कुल तीन लोग घायल बताए जा रहे हैं। इनकी हालत देखते हुए डॉक्‍टरों ने लखनऊ के लिए रेफर कर दिया है। प्रत्‍यक्षदर्शियों के अनुसार सीतापुर में पूरी वारदात पुलिस के सामने ही हुई। मारपीट के दौरान कमलापुर ब्‍लॉक में भगदड़ की स्थिति आ गई। एक बीडीसी सदस्‍य के गुस्‍साए समर्थकों ने एनएच-24 पर जाम लगा दिया है।

उधर, गोरखपुर चरगांवा ब्‍लॉक में भी नामांकन के दौरान मारपीट और पर्चा फाड़े जाने की घटना हुई। घटना के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को हल्‍का बल प्रयोग कर वहां से खदेड़ दिया।

श्रावस्‍ती में नामांकन के दौरान बवाल के बाद सपा कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच भिड़ंत की खबर है। सपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि उनके प्रत्‍याशी को नामांकन पत्र नहीं दिया गया। यह आरोप लगाते हुए इकौना के ब्‍लॉक परिसर में जाने की कोशिश कर रहे सपा प्रत्‍याशी और उनके समर्थकों को पुलिस ने रोक दिया। इस पर सपा कार्यकर्ता पुलिस से भिड़ गए। उन्‍होंने जमकर नारेबाजी की। प्रत्‍यक्षदर्शियों के अनुसार वहां माहौल बेहद खराब हो गया था। मौके पर पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है। पुलिस ने कई सपा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है।

फतेहपुर में भी नामांकन के दौरान गुरुवार को जमकर बवाल हुआ। सपा का आरोप है कि तेलियानी ब्लाक परिसर में नामांकन करने जा रहे पार्टी प्रत्याशी और समर्थकों पर भाजपा समर्थित प्रत्याशी के समर्थकों ने हमला बोल दिया। प्रत्याशी के अधिवक्ता और समर्थकों की बेहरमी से पिटाई की गई। आरोप है कि हमलावरों ने पथराव कर वाहन तोड़ दिए और नामांकन फाइल छीन कर भाग गए। इस दौरान अफसर और पुलिस मूक दर्शक बनी बवाल देखती रही। बताया जा रहा है कि सपा प्रत्याशी ने दूसरा सेट लेकर गुपचुप तरीके से ब्लाक पहुंचकर नामांकन दाखिल किया।

error: Content is protected !!