Breaking News
.

मोदी सरकार को घेरने व आंदोलन की बनी रणनीति, दिल्ली में कांग्रेसियों का मंथन, CM भूपेश सहित छत्तीसगढ़ के नेता रहे मौजूद ….

रायपुर। सांसद राहुल गांधी से ईडी ने 5 दिनों तक पूछताछ कर रही है। एजेंसी ने अब गुरुवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए बुलाया है। इसके विरोध में कांग्रेस के नेता दिल्ली में डटे हुए हैं। विरोध कर रहे कांग्रेसी नेताओं को पुलिस गिरफ्तार कर रही है। कांग्रेस का कहना है कि उनके सत्याग्रह को दबाने दिल्ली पुलिस केंद्र के इशारे पर काम कर रही है। मंगलवार को मार्च पर निकले सीएम भूपेश बघेल को पुलिस ने रोक लिया है। सीएम ने सड़क पर बैठकर विरोध किया। उनके साथ छत्तीसगढ़ के कई मंत्रियों व विधायकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद राहुल गांधी से 5 दिनों में करीब 45 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की जा चुकी है। गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के पूछताछ के विरोध में देशभर के दिग्गज कांग्रेसी नेता दिल्ली में जमे हैं। छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, मंत्री और सभी विधायक दिल्ली में मौजूद हैं। देश में निर्मित वर्तमान हालातों को लेकर बुधवार को AICC की बैठक हुई, जिसमें मोदी सरकार को घेरने और आंदोलन की रणनीति पर मंथन किया गया।

ईडी की पूछताछ और अग्निपथ योजना का कांग्रेस विरोध कर रही है। एआईसीसी की बैठक में नेताओं द्वारा मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ लड़ाई कैसे लड़ी जाए इस पर मंथन किया। बैठक में मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन की रणनीति तय की गई गई। बैठक में सीएम भूपेश बघेल के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चितंबरम, अधीर रंजन चौधरी, प्रमोद तिवारी, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम, मंत्री प्रेमसाय सिंह, मंत्री अनिला भेडिया, फूलोदेवी नेताम, रायपुर विधायक विकास उपाध्याय सहित छत्तीसगढ़ के कई मंत्री, विधायक उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!