Breaking News
.

प्रोफेसर को कैंपस में नामाज पढ़ने पर हिन्दू कॉलेज प्रशासन ने अनिवार्य छुट्टी पर भेजा …

अलीगढ़ अलीगढ़ की वार्ष्णेय यूनिवर्सिटी कैंपस में नमाज अदा करने वाले विधि विभाग के प्रोफेसर एसआर खालिद को हिन्दूवादी कॉलेज प्रशासन ने 1 महीने की अनिवार्य छुट्टी पर भेज दिया है। बता दें कि प्रोफेसर का कॉलेज के अंदर नमाज पढ़ते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसका हिंदू संगठनों ने एतराज जताया। इसके अलावा, डीएस डिग्री कॉलेज के छात्र नेताओं की ओर से प्रो. एसआर खालिद के खिलाफ क्वार्सी थाने में तहरीर दी गई है। साथ ही उन्होंने ऐलान किया है कि कार्रवाई न होने तक शहर के सभी थानों में तहरीर देने का सिलसिला जारी रहेगा।

कॉलेज के प्रवक्ता ने बताया कि इस मामले में जांच के आदेश भी दे दिए गए हैं। भारतीय जनता युवा मोर्चा के कुछ कार्यकर्ताओं ने प्रोफेसर पर अनुशासनहीनता और सार्वजनिक स्थान पर नमाज पढ़कर माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया था। इस मामले में पुलिस स्टेशन में भी शिकायत दर्ज कराई गई है। वहीं, हिंदू नेताओं की शिकायत और वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने जांच पड़ताल में जुट गई है। पुलिस ने इस मामले में कॉलेज प्रशासन से भी जानकारी मांगी है।

इससे पहले, इस केस में वार्ष्णेय कॉलेज प्रशासन की ओर से रविवार को ही जांच बैठा दी गई थी। दरअसल, प्रोफेसर का नमाज अदा करते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया। एसवी प्रशासन ने बताया थी कि मामले में जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

छात्र नेता दीपक शर्मा आजाद ने कहा कि प्रोफेसर पर तुरंत कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल भेज देना चाहिए, जिससे की कॉलेज और शहर का शांति सौहार्द खराब न हो सके। अन्यथा की स्थिति में शहर का राष्ट्रवादी छात्र कॉलेज परिसर में हनुमान चालीसा पढ़ने को बाध्य होगा। साथ ही कहा कि प्रोफेसर के खिलाफ तहरीर देना का सिलसिला जारी रहेगा।

error: Content is protected !!