Breaking News
.

देवगुरू बृहस्पति की कृपा से बदलेगा इन पांच राशि के जातकों को भाग्य…

नई दिल्ली। ज्योतिष शास्त्र में देवगुरु बृहस्पति को महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है। उन्हें ज्ञान, शिक्षक, संतान, बड़े भाई, शिक्षा, धार्मिक कार्य, पवित्र स्थल, धन, दान, पुण्य और वृद्धि आदि का कारक ग्रह कहा जाता है। बृहस्पति ग्रह 27 नक्षत्रों में पुनर्वसु, विशाखा, और पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र के स्वामी होते हैं। 21 नवंबर को गुरु मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश कर जाएंगे। गुरु के शुभ होने पर व्यक्ति का जीवन सुखमय हो जाता है। आइए जानते हैं गुरु के राशि परिवर्तन से किन राशियों का भाग्योदय होने जा रहा है…

मेष राशि. शुभ परिणाम मिलेंगे। धन- लाभ होगा। आध्यात्मिक और धार्मिक कार्यों में हिस्सा लेने का अवसर मिलेगा। नौकरी और व्यापार में तरक्की करेंगे। वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा। नया वाहन या मकान खरीदने के योग भी बन रहे हैं। कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे। सूर्य के वृश्चिक राशि में प्रवेश करने से बदल गया है इन राशियों का भाग्य, आने वाले 25 दिन वरदान के समान है।

मिथुन राशि. धन- लाभ होगा, जिससे आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। किस्मत का पूरा साथ मिलेगा। मिथुन राशि के जातकों के लिए ये समय वरदान के समान है। वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा। खूब मान- सम्मान मिलेगा। पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि के योग बन रहे हैं।

तुला राशि. तुला राशि के जातकों के लिए समय बेहद फलदायी रहने वाला है। नौकरी और व्यापार के लिए ये समय शुभ रहेगा। वैवाहिक जीवन में सुख का अनुभव करेंगे। धन- लाभ होगा। कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी। आपको नौकरी में नए अवसर प्राप्त होंगे।धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में हिस्सा लेंगे।

वृश्चिक राशि. धन लाभ होगा जिससे आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। नौकरी और व्यापार में लाभ के योग बन रहे हैं। शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों को शुभ फल की प्राप्ति होगी। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। कार्यक्षेत्र में सब आपके कार्य की तारीफ करेंगे। परिवार के सदस्यों का सहयोग प्राप्त होगा।

सिंह राशि. आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिलेगा। नया वाहन या मकान खरीदने के योग बन रहे हैं। कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे। दांपत्य  जीवन सुखमय रहेगा। परिवार के सदस्यों और मित्रों का सहयोग मिलेगा। यह समय आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं रहने वाला है।

error: Content is protected !!