Breaking News
.

हॉलमार्क की सील लगवाने 25 लाख के गहने लेकर निकला कर्मचारी, बीच रास्ते से गायब …

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक सर्राफा व्यापारी अपने कर्मचारी और उसके दोस्तों का पता लगाने में ही व्यस्त है। क्योंकि उसका कर्मचारी 25 लाख रुपये की कीमती सोने  की ज्वेलरी से भरा बैग लेकर गायब हो गया है। सर्राफा व्यापारी ने एक बैग में सोने के गहने रखकर सील लगवाने के लिए कर्मचारी को दिए थे। कर्मचारी सील लगवाने गया, लेकिन वहां से वापस अपनी दुकान नहीं लौटा, वो बीच रास्ते से ही गायब हो गया है। काफी देर पता लगाने के बाद भी जब युवक की कोई जानकारी या लोकेशन नहीं मिली तो व्यापारी ने पुलिस को इसकी सूचना दी है।

पुलिस जांच में अब तक पता चला है कि युवक का मोबाइल फोन बंद है। युवक अपने घर भी नहीं गया है। युवक के साथ ही उसके दो दोस्त भी गायब हैं, जो दुकान से निकलने से कुछ देर पहले ही उससे मिलने पहुंचे थे। ग्वालियर की कोतवाली पुलिस मामले की जांच कर रही है। संदेही कर्मचारी के खिलाफ पुलिस ने अमानत में खयानत का मामला दर्ज कर लिया है। बीते रविवार की घटना के बाद पुलिस को व्यापारी ने लापता कर्मचारी से जुड़े कुछ सीसीटीवी फुटेज भी सौंपे हैं।

सर्राफा व्यापारी की शिकायत के मुताबिक कोतवाली स्थित सर्राफा बाजार के लड्‌डू वाला कॉम्प्लेक्स में जेपी ज्वैलर्स के नाम से सर्राफा की दुकान है। इसके संचालक पोरसा मुरैना निवासी अमित पुत्र गोपालदास गर्ग हैं। अभी वह चिटनिस की गोठ में रहते हैं। उनके यहां गोल पहाड़िया बिजलीघर निवासी शुभम शर्मा कर्मचारी था। उसे उसके भाई राहुल शर्मा ने अपनी गारंटी देकर रखवाया था। राहुल को वह जानते थे क्योंकि राहुल उनके पास ही सिंघई ज्वैलर्स पर काम करता था। अभी वह सौरभ ज्वैलर्स के यहां कर्मचारी है।

शुभम को बीते 9 अक्टूबर की शाम अमित गर्ग ने करीब 490 ग्राम सोना के जेवरात लेकर हॉलमार्क सील लगवाने के लिए अमोला सेंटर पर भेजा था। शाम 6.30 बजे तक जब कर्मचारी लौटकर नहीं आया तो व्यापारी की चिंता बढ़ गई। अमोला सेंटर पर पूछताछ की तो पता लगा कि सील लगवाने के बाद शुभम निकल गया है, लेकिन काफी देर बाद भी वह जेपी ज्वैलर्स पर नहीं पहुंचा। इसके बाद व्यापारी शुभम के घर पहुंचा तो वहां वह नहीं मिला। उसका मोबाइल भी दुकान से निकलने के बाद बंद आ रहा था। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

error: Content is protected !!