Breaking News
.

सारांश मित्तर ने किया अरपा उत्थान एवं तट संवर्धन कार्य का निरीक्षण…

बिलासपुर। बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहें अरपा उत्थान एवं तट संवर्धन कार्य का गुरुवार को कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने निरीक्षण किया। प्रोजेक्ट में इंजीनियरों की कम संख्या देखकर नाराजगी जाहिर करते हुए कलेक्टर ने मॉनिटरिंग के लिए प्रोजेक्ट में और भी इंजीनियरों को शामिल करने के निर्देश एमडी स्मार्ट सिटी को दिए। पर्याप्त संख्या में मानव बल और मशीनरी में इजाफा कर पूरे प्रोजेक्ट को जून 2022 तक पूर्ण करने के निर्देश कलेक्टर ने स्मार्ट सिटी और ठेका कंपनी को दिए।

इंदिरा सेतु पुल से पचरीघाट तक बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत अरपा को संवारने के लिए अरपा उत्थान एवं तट संवर्धन का कार्य किया जा रहा है। जिसका कलेक्टर मित्तर ने मौके पर निरीक्षण किया। इस दौरान छत्तीसगढ़ राज्य पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, महापौर रामशरण यादव , एसएसपी दीपक झा  और एमडी अजय त्रिपाठी उपस्थित रहें। कार्य की प्रगति की जानकारी देते हुए एमडी अजय त्रिपाठी ने बताया की डिसिल्टींग करने के बाद सड़क के लिए समतलीकरण एवं कम्पैक्शन का कार्य किया जा रहा है, पीचिंग के लिए ब्लॉक्स का निर्माण एवं टो वॉल की तैयारी की जा रही है। जिस पर कार्य की प्रगति को देखकर कलेक्टर ने कहा की प्रोजेक्ट के लिए प्रस्तावित पूरे क्षेत्र में एक साथ काम दिखना चाहिए,इसके लिए पूरे प्रोजेक्ट को अलग-अलग हिस्सों में बांटकर कार्य करने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने नदी किनारें चांटीडीह क्षेत्र में अतिक्रमण नहीं हटाए जाने को लेकर नाराजगी जताते हुए तत्काल अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। इसके अलावा शनिचरी बाजार और गोड़पारा क्षेत्र में नदी किनारे अतिक्रमण किए व्यावसायियों को पूर्व में हटाया गया था,जहां फिर से अतिक्रमण करने का प्रयास किया जा रहा है, उन स्थानों को सुरक्षित करते हुए निर्माण शुरू करने के भी निर्देश दिए। ठेका कंपनी गणपति इंफ्रास्ट्रक्चर के मैनेजर को वाहन और मशीनरी समेत पर्याप्त संख्या में मानव बल बढ़ाने के भी दिए निर्देश। कलेक्टर ने स्मार्ट सिटी के अधिकारियों को लक्ष्य निर्धारित कर जून 2022 तक हर हाल में कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

error: Content is protected !!