मध्य प्रदेश

कभी धीमी तो कभी तेज वर्षा से भोपाल के कई इलाकों में बनी जलभराव की स्थिति, बड़ी झील का जलस्तर बढ़ते ही खुले भदभदा डेम के गेट …

भोपाल। रात से ही वर्षा का सिलसिला शुरू हो गया था। सुबह तेज वर्षा हुई और फिर थम गई लेकिन 11 बजे से तेज वर्षा शहर की सड़कें तालाब बन गईं। वहीं नाले – नालियां उफान पर आ गए और निचली बस्तियों में जलभराव की स्थिति बन गई। नगर निगम के कॉल सेंटर पर 80 शिकायतें पानी भरने और नालियां बंद होने की पहुंची। इधर, सड़कों पर दो से तीन फीट पानी भरने से ट्रैफिक जाम की स्थिति भी बनी रही।

शहर में मंगलवार को रुक-रुककर तो कभी तेज वर्षा से कई इलाकों में जलभराव की स्थिति बन गई। तो वहीं शाम साढ़े छह बजे बड़ी झील का जल स्तर अपने उच्चतम स्तर 1666.80 फीट पर पहुंच गया। इससे नगर निगम द्वारा शाम के समय भदभदा डेम का एक गेट खोल दिया गया। मंगलवार को सुबह साढ़े आठ से शाम साढ़े पांच बजे तक लगभग दो इंच वर्षा हुई है। वहीं मौसम विभाग ने आने वाले चौबीस घंटे में भारी वर्षा का अलर्ट जारी किया है। विभाग ने बताया कि बुधवार को ढाई से साढ़े चार इंच तक वर्षा होने की संभावना है।

बड़ी झील का उच्चतम जलस्तर 1666.80 फीट है। वर्तमान में झील पूरी तरह से भर चुकी है और बारिश का एक महीना बाकी है। ऐसे में बड़ी झील का जलस्तर1666.60 फीट पर मेंटेन किया जा रहा है। सोमवार की रात और मंगलवार दिन और रात को हुई वर्षा के चलते झील का जलस्तर 1666.80 फीट पर पहुंच गया। ऐसे में निगम ने शाम 6:30 बजे डैम का एक गेट खोलकर हर घंटे 12 मिलियन क्यूबिक फीट (एमसीएफटी) पानी की निकासी की।

डीआईजी बंगला, सिंधी कालोनी, भोपाल टाकीज, सेफिया कालेज , बाल विहार, अल्पना तिराहा, नादिरा बस स्टैंड इसरानी मार्केट, भारत टकीज तिराहा, लिली टाकीज चौराहा निगम जोन कार्यालय के सामने, ज्योति टाकीज चौराहा, प्रशासन अकादमी के सामने, मनीषा मार्केट, एलबीएस अस्पताल के सामने जलभराव की स्थिति बनने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

वहीं पुराने शहर के सेफिया कालेज रोड स्थित राजा जी का कुआं, इंदिरा नगर, कबीटपुरा, कांग्रेस नगर, घोड़ा नक्कास, पुष्पा नगर, महामाई का बाग, इब्राहिमगंज, शांति नगर, करोंद स्थित आवास विकास कालोनी, मुरली नगर, विश्वकर्मा नगर, मुल्ला कॉलोनी, फिजा कॉलोनी, नारियलखेड़ा सहित कोलार में नयापुरा, ललिता नगर की सड़कें पूरी तरह से जलमग्न हो गई और दुकानों में पानी भर गया।

मंदाकिनी, बीमाकुंज, कान्हाकुंज में भी ऐसे ही हालात रहे। शाहपुरा, तुलसीनगर समेत अवधपुरी, शिव नगर, करोंद, बागसेवनिया, बागमुगालिया, सुभाष नगर, अयोध्या बायपास स्थित कॉलोनियों समेत कई इलाकों में एक से दो फीट तक पानी भर गया।

Related Articles

Back to top button