Breaking News
.

संथाली साड़ी लेकर दिल्ली आ रहीं भाभी, शपथ ग्रहण के दौरान इसे पहने नजर आ सकती हैं द्रौपदी मुर्मू, आदिवासियों को हैं बड़ी उम्मीदें ..

नई दिल्ली। नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू सोमवार को देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद की शपथ लेंगी। इस दौरान वह पारंपरिक संथाली साड़ी में नजर आ सकती हैं। मूर्मू की भाभी सुकरी टुडू पूर्वी भारत में संथाल समुदाय की महिलाओं द्वारा पहनी जाने वाली एक खास साड़ी लेकर दिल्ली आ रही हैं। सुकरी अपने पति तारिणीसेन टुडू के साथ संसद के केंद्रीय कक्ष में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगी। इसके लिए वह शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी के लिए रवाना हो गईं। वहीं बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से दलितों को जितनी उम्मीदें थीं उतनी ही उम्मीदें आदिवासियों को द्रौपदी मुर्मू से है। हालांकि वे भी अपने समाज  के लिए कितना काम कर पाएंगी यह बात अलग है।

सुकरी अपने पति और परिवार के साथ मयूरभंज जिले में रायरंगपुर के समीप उपरबेड़ा गांव में रहती हैं। उन्होंने कहा कि वह मुर्मू के लिए पारंपरिक मिठाई ‘अरिसा पिठा’ भी लेकर जा रही हैं। सुकरी ने कहा, “मैं दीदी के लिए पारंपरिक संथाली साड़ी ला रही हूं और उम्मीद करती हूं कि वह शपथ ग्रहण समारोह के दौरान इसे पहनेंगी। मुझे अभी पता नहीं है कि वह असल में इस अवसर पर क्या पहनेंगी। राष्ट्रपति भवन नए राष्ट्रपति की पोशाक का फैसला लेगा।”

संथाली साड़ियों के एक छोर में कुछ धारियों का काम होता है। संथाली समुदाय की महिलाएं इसे खास मौकों पर पहनती हैं। संथाली साड़ियों में लम्बाकार में एक समान धारियां होती हैं और दोनों छोरों पर एक जैसी डिजाइन होती है।

इस बीच, मुर्मू की बेटी और बैंक अधिकारी इतिश्री व उनके पति गणेश हेम्बराम नई दिल्ली पहुंच गए हैं और वे निर्वाचित राष्ट्रपति के साथ रह रहे हैं। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि निर्वाचित राष्ट्रपति के परिवार के केवल चार सदस्य- भाई, भाभी, बेटी और दामाद ही शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि देश की 15वीं राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में ‘आदिवासी’ संस्कृति और परंपरा की झलक देखने को मिल सकती है।

बीजू जनता दल के अध्यक्ष और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक राष्ट्रीय राजधानी के चार दिवसीय दौरे पर शनिवार को रवाना हो गए। वह मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल होंगे। सूत्रों ने बताया कि मयूरभंज जिले से भाजपा के छह विधायकों के अलावा, ईश्वरीय प्रजापति ब्रह्मकुमारी की रायरंगपुर शाखा के तीन सदस्य ब्रह्मकुमारी सुप्रिया, ब्रह्मकुमारी बसंती और ब्रह्मकुमार गोविंद भी नई दिल्ली पहुंच गए हैं और उन्होंने मुर्मू से मुलाकात की।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, धमेंद्र प्रधान और विश्वेश्वर टुडू, भाजपा सांसद सुरेश पुजारी, बसंत पांडा, संगीता कुमारा सिंहदेव और उनके पति केवी सिंहदेव ने नयी दिल्ली में मुर्मू से मुलाकात की। उनके शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की उम्मीद है। उपरबेड़ा गांव के एक साधारण आदिवासी परिवार से आने वाली 64 वर्षीय मुर्मू ने भारत का राष्ट्रपति बनने तक पार्षद से लेकर मंत्री और झारखंड के राज्यपाल पद तक का लंबा सफर तय किया है।

error: Content is protected !!