Breaking News
.

वसीयत के लिए फांसी लगाते वीडियो भेजा- बुजुर्ग पिता को दिल का दौरा पड़ा ….

इंदौर। मेरा बेटा फांसी लगाने की धमकी देता है। घर से तो निकाल दिया, लेकिन संपत्ति की वसीयत करवाना चाहता है। फांसी लगाते वीडियो भेजकर धमकाया था। देखते ही मुझे अटैक आ गया। मेरी मौत के बाद पत्नी को संभालेगा। मुझे मेरे बेटे-बहू से बचा लिजिए। 65 साल के बुजुर्ग की आंखों में आंसू आ गए। वह बेटे-बहू से परेशान हो चुके थे।

एएसपी (पश्चिम-2) डॉ. प्रशांत चौबे के मुताबिक वाकया बुधवार दोपहर पुलिस पंचायत का है। द्वारकापुरी निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग पत्नी को लेकर पंचायत में आए बेटे-बहू की शिकायत की। बेटा माता-पिता को घर से बेदखल कर चुका था और अब वसीयत उसके नाम करवाना चाह रहा था। देखभाल न करने पर माता-पिता ने वसीयत से इन्कार कर दिया। उसने धमकाया और गले में फंदा लगाकर पत्नी से वीडियो बनवाकर पिता को भेज दिया।

कॉल कर कहा, वह फांसी लगाने वाला है और इसके जिम्मेदार वे स्वयं होंगे। यह बात पिता सहन नहीं कर पाए और अटैक आ गया। दोपहर को काउंसलर आरडी यादव, पुरुषोत्तम यादव और सुनीता शर्मा ने बेटे बहू को बुलाकर कहा- कानून बुजुर्गों पर अत्याचार की इजाजत नहीं देता। उनकी एक शिकायत पर जेल भी हो सकती है। बेटे को गलती का एहसास हुआ और पिता से माफी मांगी।

इसी तरह एक गणेशगंज निवासी 70 वर्षीय महिला भी बेटे की शिकायत लेकर पहुंची। वृद्धा ने अफसरों से कहा पति एएसआइ से रिटायर हुए थे। उनकी जमा पूंजी से जो मकान बनवाया उसमें बेटे ने कब्जा कर लिया। बेटियों के पास दिन गुजारने पड़ रहे है। बेटा कामकाज नहीं करता और मकान किराये पर देना चाहता है। एएसपी ने वृद्धा के बेटे को बुलाया और काउंसलिंग की। उसे भी भूल का एहसास हुआ और मां को साथ ले गया।

error: Content is protected !!