Breaking News
.

संत कालीचरण महाराज ने कहा- फांसी पर चढ़ा दो, गांधी को गाली देने का कोई अफसोस नहीं, नाथूराम गोडसे को किया प्रणाम…

रायपुर। राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को गाली देने अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में हिन्दू संत कालीचरण एफआईआर के बाद आरोपी का एक और वीडियो सामने आया है। वीडियो में आरोपी संत कालीचरण ने कहा कि उसे इसका कोई पश्चाताप नहीं है। मुझे मृत्युदंड भी स्वीकार है। फांसी पर भी चढ़ा दोगे तो भी मेरे सुर नहीं बदलेंगे। उसने कहा कि करोड़ों साल से राष्ट्र है। 200 साल पहले आया व्यक्ति कैसे राष्ट्रपिता हो सकता है। इस वीडियो में भी उन्होंने पंडित नाथूराम गोडसे को साष्टांग प्रणाम किया। उन्होंने कहा कि महात्मा, गांधीजी नहीं बल्कि पंडिट नाथूरोम गोडसे है। धर्म की रक्षा और राष्ट्र को बचाने के लिए वे फांसी पर भी चढ़ने को तैयार हैं।

बता दें कि रायपुर के रावणभाठा मैदान में रविवार शाम दो दिवसीय धर्म संसद के अंतिम दिन कालीचरण ने अपने वक्तव्य के दौरान राष्ट्रपिता के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी और उनके हत्यारे पंडित नाथूराम गोडसे को प्रणाम करते हुए उनकी प्रशंसा की थी। इसके बाद छत्तीसगढ़ सहित देश की सियासत गरमा गई है। भाजपा-कांग्रेस के नेताओं में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सिविल लाइन व नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे ने टिकरापारा थाने में शिकायत दर्ज कराई है। इस शिकायत के आधार पर कालीचरण बाबा पर अपराध किया गया है। अब कालीचरण ने सोशल मीडिया पर दूसरा वीडियो डालकर आग में घी डालने का काम कर दिया है। कालीचरण ने वीडियो में महात्मा गांधी के अलावा जवाहर लाल नेहरू पर भी टिप्पणी की है।

रायपुर में अपने खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद कालीचरण ने एक वीडियो जारी कर अपनी टिप्पणियों को फिर दोहराया है। वीडियो में कालीचरण ने कहा है, गांधी के बारे में अपशब्द बोलने के लिए मेरे खिलाफ प्राथमिकी हुई है। मुझे उसका कोई पश्चाताप नहीं है। उन्होंने कहा, मैं गांधी को राष्ट्रपिता नहीं मानता हैं। यदि सच बोलने की सजा मृत्युदंड है तो वह भी स्वीकार है।

कालीचरण ने धर्म संसद में गांधी की हत्या करने वाले पंडित नाथूराम गोडसे की सराहना करने के साथ ही अन्य कई आपत्तिजनक बातें भी कही थीं। इस वीडियो में उन्होंने भगत सिंह, सुखदेव व राजगुरु को सच्चा देशभक्त बताया है। उन्होंने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने हिंदुओं के लिए क्या किया है।

रायपुर में महात्मा गांधी पर अपशब्द कहने को लेकर रायपुर पुलिस ने पीसीसी चीफ मोहन मरकाम व प्रमोद दुबे की शिकायत पर कालीचरण के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) (विभिन्न वर्गों के बीच शत्रुता, घृणा या द्वेष पैदा करने या बढ़ावा देने वाले बयान) तथा 294 (अश्लील कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया है। एसएएपी प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि कालीचरण का एक और वीडियो जारी होने की सूचना मिली है। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है तथा आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। फरार कालीचरण को गिरफ्तार करने पुलिस की टीमें बनाई गई है।

error: Content is protected !!