Breaking News
.

मोदी मंत्रिमंडल के संभावित फेरबदल में रेणुका सिंह को मिल सकती है नई जिम्मेदारी …

नई दिल्ली (प्रमोद शर्मा) । केंद्रीय मंत्रिमंडल में जनजाति विकास राज्यमंत्री रेणुका सिंह का कद मोदी मंत्रिमंडल के संभावित फेरबदल में बढ़ सकता है। मध्यप्रदेश से कम से कम दो नए मंत्री बनाए जाने की चर्चा है तो छत्तीसगढ़ में आदिवासी लीडरशीप को उभारने के लिए भाजपा रेणुका सिंह पर ही फोकस कर सकता है।

ऐसे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा नेतृत्व का इस समय पूरा फोकस उत्तर प्रदेश में वर्ष 2022 के शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर है। इसके साथ – साथ मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ भी भाजपा की प्राथमिकता में है। मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार है। छत्तीसगढ़ में भाजपा की वर्तमान स्थिति ठीक नहीं है लेकिन पार्टी के लोगों को यह भरोसा है कि ढाई साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में एक बार फिर भाजपा पुरानी स्थिति में आ जाएगी।

विधानसभा चुनाव में जिस तरह से भाजपा यहां 15 सीटों पर सिमटी और फिर लोकसभा के चुनाव में 11 में से 9 सीट जीतकर वापसी की इससे पार्टी के बड़े नेताओं को उम्मीद है कि विधानसभा चुनाव फिर से हम जीत सकते हैं। केंद्रीय मंत्रिमंडल में छत्तीसगढ़ से अभी रेणुका सिंह राज्य मंत्री हैं। अभी जो इनके पास विभाग हैं वह बहुत महात्वपूर्ण नहीं है। जनजाति विकास विभाग में उन्हें राज्यमंत्री की जिम्मेदारी मिली हुई है। छत्तीसगढ़ में जब भाजपा की सरकार थी तब वे यहां मंत्री रह चुकीं हैं। लोकसभा चुनाव इन्होंने सरगुजा संसदीय क्षेत्र से जीत दर्ज की है।

भाजपा नेतृत्व में सालों से आदिवासी नेताओं को उभारने का प्रयास किया। प्रदेश अध्यक्ष से लेकर नेता प्रतिपक्ष और केंद्र में मंत्री तक बनाया गया। मगर पूरे प्रदेश में जनाधार किसी भी नेता ने नहीं बना पाया। यही वजह है कि पांच वर्ष या दस वर्ष बाद ऐसे नेताओं की पूछपरख पार्टी के अंदर में भी नहीं के बराबर हो गई है। प्रदेश में तीन चार बड़े आदिवासी चेहरा होने के बावजूद भाजपा ने रेणुका सिंह पर भरोसा जताकर एक मौका उनको भी दिया है। अब रेणुका सिंह भी इस उम्मीद में खरा उतरने को ठान ली है। यह सभी को पता है कि छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन आदिवासी बहुल्य क्षेत्रों से ही होता है। बीते विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के बस्तर और सरगुजा क्षेत्र में आदिवासियों में भाजपा का साथ नहीं दिया। जिससे आज भाजपा विपक्ष में है। रेणुका सिंह अंदर ही अंदर आदिवासी समाज को एकजुट करने में लगी हुईं हैं। भाजपा के लोगों को भी यह उम्मीद है कि संभावित मंत्रिमंडल के फेरबदल में रेणुका सिंह का कद बढ़ेगा।

error: Content is protected !!