Breaking News
.

2011 वर्ल्ड कप की याद हुई ताजा : धोनी ने छक्का मारकर चेन्नई सुपर किंग्स को 11 वीं बार प्ले ऑफ में पहुंचाया…

नई दिल्ली। चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने आईपीएल के 44 वें मुकाबले में  सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ छक्का मारकर अपनी टीम को जीत दिलाते हुए रिकॉर्ड 11 वीं बार प्ले ऑफ में पहुंचाया है। इस मैच में धोनी ने 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल की याद दिला दी।

 

तीन बार धोनी की कप्तानी में आईपीएल खिताब अपने नाम करने वाली सीएसके इस सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम है। धोनी ने सिद्धार्थ कॉल की ओवरपिच गेंद को 96 मीटर दूर दर्शक दीर्घा में पहुंचाकर अपनी टीम को इस सीजन की 9वीं जीत दिलाई।

 

 

धोनी के इस आखिरी छक्के ने फैंस के जहन में 10 साल पुरानी यादों को ताजा कर दिया, जब एमएस धोनी ने अपनी कप्तानी में भारत को वनडे वर्ल्ड कप जिताया था। 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में भारत के सामने थी श्रीलंका। धोनी ने फाइनल मुकाबले में शानदार बल्लेबाजी की थी और नुवान कुलासेकरा की गेंद को मैदान के बाहर पहुंचाकर भारत को दूसरा वनडे वर्ल्ड कप दिलाया था।

 

 

शारजाह स्थित शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इस मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 134 रन बनाए।

 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स ने 19.4 ओवर में 4 विकेट पर 139 रन बना मैच जीत लिया। आखिरी ओवर में चेन्नई को जीत के लिए 3 रन बनाने थे। वह शुरुआती तीन गेंद में एक रन ही बना पाई। हालांकि, चौथी गेंद पर सिद्धार्थ कौल की गेंद पर छक्का लगाकर एमएस धोनी एक बार फिर फिनिशर बने।

 

 

इस हार के साथ ही सनराइजर्स हैदराबाद के प्लेऑफ (अंतिम-4) में पहुंचने की सभी संभावनाएं खत्म हो गईं। वहीं, चेन्नई सुपरकिंग्स रिकॉर्ड 11वीं बार आईपीएल के प्‍लेऑफ में पहुंचने वाली टीम बनी। पॉइंट्स टेबल में धोनी की टीम 11 में से 9 मुकाबले जीतकर 18 अंकों के साथ टॉप पर है वहीं केन विलियम्स की SRH 11 में 9 हार झेलने के बाद आखिरी स्थान पर बनी हुई है।

error: Content is protected !!