Breaking News
.

अशोक गहलोत के मंत्री के बेटे पर रेप केस: MLA दिव्या बोलीं- सुरक्षा दे पुलिस …

जयपुर। राजस्थान से कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा ने मंत्री महेश जोशी के बेटे पर रेप का केस दर्ज कराने वाली पीड़िता को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है। जोधपुर के ओसियां से कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा ने ट्वीट कर लिखा- दिल्ली के सदर बाजार थाने में दर्ज जीरो एफआईआर की जांच की जा रही है, लेकिन पुलिस प्रशासन को लेकर मेरे डीजीपी से गंभीर सवाल हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में पूछा है कि एफआईआर दर्ज करने से इनकार करने वाले अधिकारियों के खिलाफ राजस्थान पुलिस की ओर से प्राथमिकी दर्ज क्यों नहीं की गई?

इस मामले में डीजीपी को तुरंत विभागीय जांच का निर्देश देना चाहिए। मदेरणा ने कहा कि DGP और राजस्थान पुलिस को भी पीड़िता और उसके परिवार को तुरंत सुरक्षा प्रदान करनी चाहिए। क्योंकि उसका पैतृक निवास राजस्थान में है। पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा की बेटी दिव्या मदेरणा ने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमारी सरकार बहुत संवेदनशील है, लेकिन पुलिस को तेजी से कार्रवाई करने की जरूरत है।

कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा के ट्वीट से साफ है कि भले ही दिव्या मदेरणा ने सीधे महेश जोशी या उनके बेटे का नाम अपने ट्वीट में नहीं लिखा हो लेकिन जिस तरह से उन्होंने पीड़ित युवती और पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए हैं। इसे सीधे तौर पर मंत्री महेश जोशी पर निशाना साधने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि महेश जोशी के पुत्र रोहित जोशी पर जयपुर की एक युवती ने दिल्ली में दुष्कर्म का केस दर्ज कराया है। दिल्ली पुलिस मामले की जांच कर रही है।  माना जा रहा है कि दिल्ली पुलिस रोहित जोशी को पूछताछ के लिए बुला सकती है।

बेटे पर रेप का केस दर्ज होने के बाद जलदाय मंत्री महेश जोशी पर इस्तीफा देने की चर्चाए तेज हो गई है। हालांकि, मंत्री महेश जोशी के करीबी नेताओं का कहना है कि महेश जोशी के इस्तीफा देने का कोई इरादा नहीं है, लेकिन सीएम गहलोत के संकेत पर इस्तीफा दे सकते हैं। इस बीच कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा ने ट्वीट कर कहा कि पीड़िता को सुरक्षा मुहैया करानी चाहिए। सीएम गहलोत की अध्यक्षता में आज शाम 6 बजे मुख्यमंत्री आवास पर कैबिनेट की बैठक होगी।

माना जा रहा है कि कैबिनेट की बैठक में मंत्री महेश जोशी के इस्तीफे की चर्चा हो सकती है। पूरे मामले में महेश जोशी सीएम गहलोत से मिलकर अपना पक्ष रख चुके हैं। माना जा रहा है कि सीएम गहलोत की प्रदेश प्रभारी अजय माकन से इस संबंध में बातचीत हुई है।  दरअसल 13 से 15 मई तक उदयपुर में कांग्रेस का चिंतन शिविर होने जा रहा है। ऐसे में विपक्ष इस मुद्दे को उठाएगा तो सरकार और संगठन के लिए परेशानी का बड़ा मुद्दा बन सकता है।

error: Content is protected !!