Breaking News
.

उर्दू में लिखी फिल्म स्क्रिप्ट देखकर काम करने को तैयार हो गए थे राजकुमार…

नई दिल्ली। अपनी डायलॉग डिलीवरी और दमदार अभिनय के बादशाह राजकुमार ने कई हिट फिल्में दी है। कहा जाता है कि राजकुमार साहब अपनी शर्तों पर काम करने वाले एक्टर थे। डायरेक्टर मेहुल कुमार के साथ राजकुमार ने कुल तीन फिल्मों में काम किया था। मेहुल और उनकी पहली फिल्म थी- मरते दम तक। दोनों की जोड़ी ने तीन सुपरहिट फिल्में भी दी थीं। मेहुल ने फिल्म ‘मरते दम तक’ का किस्सा एक इंटरव्यू में भी साझा किया था।

उन्होंने बताया था, ‘मेरे पास एक स्क्रिप्ट थी तो मैंने प्रोड्यूसर प्राण लाल मेहता से मुलाकात की थी। मैंने उन्हें बताया कि मेरे पास राज साहब के लिए एक स्क्रिप्ट मिली है। प्राण जी ने मुझे कहा कि तुम पूछकर देख लो क्योंकि राज साहब मुझे पहले दो बार फिल्म के लिए मना कर चुके हैं। मैंने राज साहब को फोन लगाया और उन्होंने मिलने के लिए बुलाया। मैं उनसे मिलने के लिए गया। उन्होंने मेरी स्क्रिप्ट देखी और उर्दू में लिखी स्क्रिप्ट देखकर हैरान रह गए। साथ ही उन्हें मेरी फिल्म का टाइटल भी बहुत पसंद आया था।

मेहुल कुमार ने आगे बताया था, ‘राजकुमार जी ने स्क्रिप्ट देखते ही कहा कि वाह आपने उर्दू में स्क्रिप्ट लिखवाई है तो मैंने कहा कि ये आपके लिए स्पेशल लिखवाई थी। एक तरह से उन्हें मेरी स्क्रिप्ट उसी समय पसंद आ गई थी, लेकिन उन्होंने मुझसे थोड़ा समय मांगा। उन्होंने कहा कि अगले हफ्ते आ जाइएगा। मैं अगले हफ्ते भी उनकी बताई हुई लोकेशन पर पहुंच गया और उन्होंने तारीफ करते हुए कहा कि ये शानदार स्क्रिप्ट है। मैंने जब उन्हें प्रोड्यूसर के बारे में बताया तो उन्होंने कहा कि मैं उन्हें पहले भी दो बार मना कर चुका हूं।’

हालांकि इस बार वह फिल्म करने के लिए तैयार हो जाते हैं। मेहुल कहते हैं, ‘मैं इस फिल्म को 6 महीने में खत्म करना चाहता था। मैंने उन्हें बता दिया कि मुझे आपके महीने में सिर्फ 10 दिन चाहिए और मैं इतने में ही फिल्म खत्म कर दूंगा। राज साहब ने थोड़ा सोचा और कहा कि ठीक है कोई बात नहीं। हमने तय समय के अनुसार 6 महीने में ही अपनी फिल्म की शूटिंग पूरी कर ली थी। बाद में जब फिल्म रिलीज हुई तो सब आपके सामने ही है कि कैसे सुपरहिट साबित हुई। इसका पूरा श्रेय राज साहब को ही जाता है।’

error: Content is protected !!