Breaking News
.

राजीव जयंती पर प्रदेश के 11 हजार खिलाड़ियों को दिया जायेगा “राजीव खेल प्रतिभा सम्मान” : प्रवीण जैन

रायपुर । राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर ध्यानचंद खेल रत्न करने के फैसले को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनता की आवाज बतलाया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने इस फैसले पर प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि प्रधानमंत्री ने महापुरुषो का अपमान करने का अच्छा तरीका खोज लिया है कि जनता के सर मढ दो, ध्यानचंद के प्रति यदि इतना सम्मान था तो राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से दोगुनी राशि का कोई नया पुरस्कार घोषित करते तो समझ आता।

प्रवीण जैन ने पूछा है कि जब अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम का नाम बदलकर नरेन्द्र मोदी स्टेडियम और दिल्ली स्टेडियम का नाम बदल कर अरूण जेटली स्टेडियम कर दिया गया, क्या तब भी देश की जनता की आवाज सुनकर इसे बदला था? प्रवीण जैन ने कहा कि यह बात शायद सभी जानते होंगे कि हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाने की परम्परा की शुरुआत पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की कांग्रेस सरकार ने 2012 में की थी। इसी दिन राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड, अर्जुन अवार्ड और द्रोणाचार्य अवार्ड के पुरस्कार दिए जाते हैं।

मेजर ध्यान चंद को पद्मश्री सम्मान नेहरु के कार्यकाल में दिया गया था। प्रवीण जैन ने कहा कि भाजपा को न तो खेल से मतलब है न खिलाड़ियों से। मोदी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए खेलों के लिए 2,596.14 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया जो कि पिछले वित्त वर्ष में आवंटित बजट से 8.16 प्रतिशत या 230.78 करोड़ रुपये कम है। खेल मंत्रालय का प्रमुख आयोयन-खेलो इंडिया के लिए 2020-21 में आवंटित 890.42 करोड़ रुपये की तुलना में इस साल 657.71 करोड़ रुपये का आवंटन मात्र हुआ है।

प्रवीण जैन ने कहा कि जिस व्यक्ति ने देश की एकता अखंडता के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया, जिस व्यक्ति ने देश में पंचायती राज व्यवस्था को सशक्त किया, जिस व्यक्ति ने युवाओं के मताधिकार की आयु सीमा को कम किया, जिस व्यक्ति ने देश में कंप्यूटर क्रांति लाई हो, जिस व्यक्ति ने देश में दूरसंचार क्रांति लाई हो, ऐसे महान व्यक्ति भारत रत्न से सम्मानित शहीद राजीव गांधी के नाम को परिवर्तित करना दुर्भावनापूर्ण राजनैतिक फैसला है, जिसकी जितनी भी निंदा की जाये वह कम है।

प्रवीण जैन ने घोषणा करते हुए कहा है कि छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस द्वारा शहीद राजीव गांधी की जयंती 20 अगस्त पर 3 दिवसीय विभिन्न खेल व सांस्कृतिक आयोजनों के साथ राष्ट्रीय खेल दिवस 29 अगस्त पर आयोजित होने वाला “कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान” समारोह का आयोजन अब “राजीव खेल प्रतिभा सम्मान” के नाम से प्रत्येक वर्ष राजीव जयंती के अवसर पर 20 अगस्त को प्रदेश के सभी जिलों में एक साथ आयोजित कराया जायेगा। इस समारोह में प्रदेश के 11 हजार खिलाड़ियों को सम्मानित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके लिए 15 अगस्त तक खिलाड़ी अपने जिलों में आवेदन कर सकेंगे।.

error: Content is protected !!