Breaking News
.

विधायक देवव्रत सिंह की पहली व दूसरी पत्नी के बीच संपत्ति विवाद, शासन ने कमल विलास पैलेस भी किया सील …

रायपुर। राजनांदगांव जिले में खैरागढ़ रियासत के विधायक देवव्रत सिंह की मौत के बाद राज परिवार में उठे संपत्ति विवाद ने नया मोड़ ले लिया है। विवाद इतना बढ़ गया है कि विधायक की पहली व दूसरी पत्नी संपत्ति को लेकर आमने सामने हैं। इसे देखते हुए प्रशासन को दखल देना पड़ा। शनिवार को जिला प्रशासन के अफसरों ने कमल विलास पैलेस के 9 कमरों को सील कर दिया। कमल विलास पैलेस को सील करने का आदेश खैरागढ़ एसडीएम ने जारी किया है।

देवव्रत सिंह के निधन के बाद पैलेस के मालिकाना हक को लेकर विवाद की स्थिति निर्मित हो गई। अब अंतिम निराकरण होने तक पैलेस सील रहेगा। इधर सीएम भूपेश बघेल से देवव्रत सिंह के पुत्र-पुत्री ने मुलाकात की। सीएम ने कहा कि यद्यपि जीवन में पिता की कमी कोई पूरी नहीं कर सकता, लेकिन एक अभिभावक के रूप में वह हमेशा उपलब्ध रहेंगे।

एसडीएम द्वारा जारी आदेश में कहा गया कि देवव्रत सिंह की पुत्री शताक्षी सिंह, पुत्र आर्यव्रत सिंह सहित अन्य दो के साथ उनकी पत्नी विभा सिंह व सौतन के बीच का विवाद खैरागढ़ तहसील में विचाराधीन है। देवव्रत सिंह के कमल विलास पैलेस को लेकर दोनों पक्षों में लगातार विवाद की स्थिति निर्मित हो गई है। ऐसे में कमल विलास पैलेस को सील किया जाना ही उचित होगा।

बताया जाता है कि कमल विलास पैलेस सील होने के बाद परिवार के सदस्य रायपुर में रहने आ सकते हैं। जिला प्रशासन ने राज परिवार के सदस्यों व नौकरों को पहले से बाहर निकाला उसके बाद विधिवत सीलिंग की कार्यवाही की गई।

बता दें कि मृतक विधायक देवव्रत सिंह के पुत्र आर्यव्रत सिंह व पुत्री शताक्षी ने प्रेस वार्ता लेकर अपनी सौतेली मां (विभा सिंह की सौतन) पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था। वहीं विभा सिंह ने भी प्रेस कांफ्रेंस में कई गंभीर आरोप लगाए हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद परिवार के विवाद में खैरागढ़ की जनता कूद गई। यही नहीं खैरागढ़ की जनता उदयपुर पैलेस में घुस गई थी और मृतक देवव्रत की पत्नी विभा सिंह से तीखी बहस भी हुई थी।

ग्रामीणों ने उदयपुर महल को खोलने के दौरान भी हंगामा किया, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। इस दौरान ग्रामीणों ने एसडीओपी की गाड़ी में तोड़फोड़ कर दी थी। पुलिस को आधी रात को मार्च पास्ट कराना पड़ा था। उदयपुर महल के बाद अब शनिवार को कमल विलास पैलेस को भी प्रशासन ने सील कर दिया।

error: Content is protected !!