Breaking News
.

प्रियंका गांधी का योगी पर हमला, बोलीं- मैं अपने भाई के लिए अपनी जान कुर्बान कर सकती हूं …

नई दिल्ली। पिछले कई सालों से देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस में अंदरूनी कलह की बात शीर्ष मीडिया द्वारा अक्सरी ही कही व प्रचारित की जाती रही है। हालांकि ये मीडिया हाऊस कभी इसका पर्याप्त सुबुत नहीं दे पाए हैं। पंजाब विधानसभा चुनाव के बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सीएम योगी के एक बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी में संघर्ष है, कांग्रेस में नहीं।

प्रियंका गांधी ने रविवार को कहा कि मैं अपने भाई (राहुल गांधी) के लिए अपनी जान कुर्बान कर सकती हूं और वह भी मेरे लिए ऐसा कर सकता है। संघर्ष भाजपा में है, कांग्रेस में नहीं। योगी-मोदी और अमित शाह के बीच हितों का टकराव हो सकता है।

बता दें कि प्रियंका गांधी ने सीएम योगी आदित्यनाथ के एक बयान पर पलटवार किया है। दरअसल, हाल ही में उत्तराखंड की टिहरी में सीएम योगी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा था कांग्रेस तो पूरे देश के अंदर डूब रही है। थोड़ा जहां वजूद था भी, वहां पर डुबोने के लिए दोनों भाई बहन पर्याप्त हैं, किसी तीसरे की जरूरत नही पड़ेगी।

इसके अलावा उन्होंने जनता से कहा कि इसलिए क्यों उस डूबते हुए जहाज में बैठेंगे। डूबते हुए जहाज में नहीं बैठना चाहिए। उसको उसके हाल में छोड़ देना चाहिए। इसके अलावा सीएम योगी ने एक ट्वीट में लिखा था कि लिखा था कि भाई बहन के आपसी विवाद और वर्चस्व के कारण कांग्रेस डूब जाएगी।

रविवार को कोटकपुरा में ‘नवी सोच नवा पंजाब’ चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने आम आदमी पार्टी पर हमला किया और दावा किया कि AAP दक्षिणपंथी हिंदू संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से निकली है।

उन्होंने कहा कि आप के नेतृत्व वाली दिल्ली में “शैक्षिक और स्वास्थ्य देखभाल संस्थानों के नाम पर कुछ भी नहीं है”। रैली में प्रियंका गांधी ने कहा, ‘आम आदमी पार्टी आरएसएस से निकली है।दिल्ली में शैक्षणिक और स्वास्थ्य संस्थानों के नाम पर कुछ भी नहीं है। राजनीतिक दलों और उनके नेताओं के बारे में सच्चाई जानना महत्वपूर्ण है।” उन्होंने कहा, ” AAP ने कहा कि वे अपना दिल्ली मॉडल लाएंगे। मत भूलिए कि 2014 में बीजेपी ने गुजरात मॉडल लाकर लोगों को बेवकूफ बनाया था। इस बार AAP के बहकावे में न आएं।”

कोटकपूरा से कांग्रेस उम्मीदवार अजयपाल सिंह संधू के लिए प्रचार करते हुए उन्होंने कहा, “पंजाब सरकार पंजाब से चलाई जानी चाहिए, दिल्ली से नहीं, जैसा कि आप या बीजेपी के सत्ता में आने पर किया जाएगा।” प्रियंका गांधी ने इस बात पर भी जोर दिया कि कांग्रेस पार्टी के सीएम चन्नी “आप के बीच एक आम आदमी” हैं।

किसानों के मुद्दों को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘किसान आंदोलन में कई लोगों की जान चली गई लेकिन आप सब नहीं झुके। आप सभी जानते हैं कि मैंने एक पंजाबी व्यक्ति से शादी की है। मेरे बच्चों का पंजाबी खून है। पंजाबी लोगों के दिल बहादुर होते हैं।”

उन्होंने पिछले साल उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा का मुद्दा भी उठाया और उल्लेख किया कि इस मामले में भाजपा के एक मंत्री का बेटा मुख्य आरोपी था जिसमें चार किसानों की मौत हो गई थी।

कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि पंजाब में कांग्रेस के नेतृत्व वाली राज्य सरकार कुछ समय के लिए केंद्र से भाजपा द्वारा पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के माध्यम से संचालित की जा रही थी।

उन्होंने कहा, ‘पंजाब में पिछले पांच साल से हमारी कांग्रेस की सरकार है। इस सरकार ने पंजाब से संचालित होना बंद कर दिया, इसके बजाय इसे दिल्ली से संचालित किया जा रहा था, कांग्रेस द्वारा नहीं बल्कि भाजपा द्वारा। यह छिपा हुआ गठबंधन अब सबके सामने आ गया है। चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के पीछे यही कारण है।

पूर्व कांग्रेसी अमरिंदर सिंह ने सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद पंजाब लोक कांग्रेस नाम से अपनी पार्टी शुरू की। पंजाब में पीएलसी और बीजेपी गठबंधन के साथ चुनाव लड़ रही है। गौरतलब है कि पंजाब में 20 फरवरी को मतदान होगा। वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी।

error: Content is protected !!