Breaking News
.

दो गोदामों पर पुलिस का छापा, 850 किलो उपयोग किए गए सर्जिकल दस्ताने बरामद, धोकर कर बेचने वाले 3 गिरफ्तार …

नई दिल्ली। कोरोना काल के दौरान दिल्ली पुलिस ने दो गोदामों पर छापा मारकर कथित तौर पर करीब 850 किलोग्राम इस्तेमाल किए हुए सर्जिकल दस्ताने बरामद किए हैं। इन दस्तानों को धोकर दोबारा मार्केट में बेचने के आरोप में तीन लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल, दिल्ली पुलिस को दो जगहों पर अस्पतालों में इस्तेमाल किए गए पुराने सर्जिकल दस्तानों को धोकर दोबारा पैक कर बाजार में बेचने की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस ने दोनों गोदामों पर छापा मारकर 848 किलोग्राम इस्तेमाल किए हुए सर्जिकल दस्ताने बरामद करते हुए तीन लोगों को धर दबोचा। इनकी पैकिंग इस तरीके से की जाती थी कि कोई भी इनको पहचान नहीं पाता था।

पुलिस अब इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि गिरफ्तार किए गए इन तीन आरोपियों के अलावा और कितने लोग इस धंधे से जुड़े हुए थे। इसके साथ ही पुलिस यह भी पता लगाने का भी प्रयास कर रही है कि इन सर्जिकल दस्तानों को कहां पर बेचा जाता था।

गौरतलब है कि इस माह की शुरुआत में गाजियाबाद पुलिस ने भी ट्रॉनिका सिटी की एक फैक्ट्री में छापा मारकर काफी संख्या में इस्तेमाल हुए सर्जिकल दस्ताने बरामद कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपी इस्तेमाल किए गए दस्ताने धोकर दोबारा बाजार में सप्लाई कर थे।

फैक्ट्री से 98 बोरे बिना धुले, 60 बोरे धुले हुए सर्जिकल दस्ताने और आठ सौ पैकिंग बॉक्स बरामद हुए थे। फैक्ट्री में दो धुलाई मशीनें, एक सुखाने वाली मशीन तथा एक वाशिंग मशीन लगी हुई थी। फैक्ट्री को भजनपुरा दिल्ली निवासी गुड्डू उर्फ जमीर अहमद, अजीम अहमद पुत्र जहीर एवं चावड़ी बाजार दिल्ली निवासी परवेज पुत्र मोहम्मद यूसुफ चला रहे थे।

आरोपियों ने बताया था कि नए दस्तानों का डिब्बा करीब 600 रुपये का आता है, लेकिन वह धुले हुए 100 जोड़ी दस्ताने के डिब्बे को 350 रुपये में दिल्ली के भगीरथ पैलेस मार्केट में थोक की दुकानों पर बेचते थे। इसके साथ ही अन्य मार्केटों में मांग के अनुसार भी सप्लाई की जाती थी।

error: Content is protected !!