Breaking News
.

सिलेक्शन पॉलिसी पर पूर्व क्रिकेटर ने कहा-भारत के खिलाड़ियों को इंग्लैण्ड की टीम से सीखने की जरूरत…

नई दिल्ली। भारत के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने भारतीय टीम की चयन प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं। उनका मानना है कि सिर्फ इस कमी के कारण ही इंग्लैंड भारत से बेहतर टी20 टीम है। चोपड़ा ने चुटकी लेते हुए ये भी कहा कि अगर इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट भारत में होते तो उन्हें टी20 का कप्तान बना दिया जाता।

अपने यूट्यूब चैनल पर एक यूजर के सवाल का जवाब देते हुए आकाश चोपड़ा ने बताया कि कैसे जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स जैसे खिलाड़ियों के बिना भी इंग्लैंड अच्छा परफॉर्म कर रहा है। वहीं भारत को इससे सीखने की जरूरत है।

चोपड़ा ने कहा कि,’ये टीम हमेशा फिलोसिफी के साथ चलती है। उनके इरादे एकदम साफ रहते हैं। टी20 वर्ल्ड कप के लिए उन्हें द हंड्रेड और टी20 ब्लास्ट जैसे घरेलू टूर्नामेंट के आधार पर खिलाड़ियों को चुना। उन्होंने उन खिलाड़ियों को ही मौका दिया जो टी20 फॉर्मेट या व्हाइट बॉल क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। यही इस फॉर्मेट की जरूरत भी है।’

उन्होंने आगे कहा कि,’टी20 वर्ल्ड कप के लिए इंग्लैंड ने टेस्ट के प्रदर्शन पर ध्यान ही नही दिया। चाहें कितना भी कोई खिलाड़ी अच्छा क्यों ना करे। आप जो रूट को ही देख लीजिए। अगर रूट भारत में होते तो उन्होंने टी20 टीम का कप्तान बना दिया जाता। ऐसा ही भारत में होता है लेकिन इंग्लैंड इस तरह नहीं सोचता।’

गौरतलब है कि इंग्लैंड पिछले कुछ सालों से व्हाइट बॉल क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहा है। 2019 में भी इंग्लैंड ने वनडे विश्व कप पर कब्जा किया था। इसके बाद मौजूदा टी20 वर्ल्ड कप में भी इंग्लैंड की टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है।

इंग्लैंड ने अपने शुरुआती चारों मुकाबले जीतकर ग्रुप-1 में पहले स्थान पर कब्जा बना रखा है। इंग्लैंड 8 अंकों के साथ पॉइंट्स टेबल में टॉप पर है और सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है। हालांकि जोफ्रा आर्चर, बेन स्टोक्स, सैम करन कई खिलाड़ी चोट के कारण बाहर हैं। इसके बावजूद इस टीम ने खुद के प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ने दिया।

error: Content is protected !!