Breaking News
.

30 सितंबर को 10040 निरक्षर साक्षरता के लिए महापरीक्षा अभियान में होंगे शामिल : सारांश मित्तर…

बिलासपुर। कार्यालय कलेक्टर (जिला साक्षरता मिशन प्राधिकारी) बिलासपुर से मिले जानकारी के अनुसार केन्द्र प्रवर्तित योजना अंतर्गत संचालित पढ़ना लिखना अभियान के तहत् 30 सितंबर 2021 को निरक्षरों की साक्षरता के आंकलन करने  के लिए महापरीक्षा अभियान आयोजित किया जा रहा है। आंकलन परीक्षा के लिए बिलासपुर जिले के विकासखंड कोटा में 32, तखतपुर में 21, बिल्हा 32 में, मस्तूरी में 11 कुल 96 परीक्षा केन्द्र बनाये गये है। जिले में कुल पंजीकृत शिक्षार्थी 10040 है जो इस महापरीक्षा में शामिल होगे।

 

 

पूर्व में चिन्हांकित ग्राम पंचायतों में 1004 स्वयं सेवकी शिक्षकों के द्वारा असाक्षरों को पढ़ना लिखना और जोड़ घटा आदि सिखाने का कार्य किया गया  है। महा परीक्षा अभियान में अधिक से अधिक संख्या में परीक्षा केन्द्रों तक पहुंचने के लिये  जिला द्वारा विभिन्न तरह की युक्ति अपनाई गई है जैसे दीवार लेखन, स्लोगन, शिक्षार्थी पर्ची एवं कोटवार के द्वारा मुनादी आदि सभी प्रचार-प्रसार का कार्य पूर्ण किया जा चूका है। परीक्षा की भी सभी तैयारी पूर्ण कर ली गई है। राज्य स्तरीय वेबीनार आयोजित कर दिनांक 28.09.2021 एवं 29.9.2021 को सभी नोडल अधिकारी, विकासखंड प्रभारी, डाटा एंट्री आपरेटर, संकुल समन्वयकों, केन्द्रोध्यक्षों, पर्यवेक्षक सह मुल्यांकन कर्ता को परीक्षा आयोजन एवं संपादित करने हेतु नियम, निर्देश एवं कोविड 19 के गाइडलाईन पालन हेतु जानकारी राज्य कार्यालय ने प्रदान किया है। प्रश्न पत्र वितरण 96 परीक्षा केन्द्रों तक विकास खंड कार्यालय के माध्यम से किया जा चूका है।

 

 

 

इसी क्रम में डॉ.सारांश मित्तर (आई.ए.एस) कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण बिलासपुर के द्वारा स्थानीय छत्तीसगढ़ी बोली में नेवता पाती भेज कर शत-प्रतिशत निरक्षकों को साक्षरता हेतु अपील के साथ आमंत्रण भी किया गया की 30 सितंबर 2021 को (प्रातः 10 से शाम 5.00 बजे तक) महा परीक्षा अभियान में शामिल होकर अभियान को सफल बनायें। इस क्रम हरीश एस (आई.ए.एस) मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं उपाध्यक्ष जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण बिलासपुर द्वारा महा परीक्षा अभियान में निरीक्षण हेतु जिला स्तर एवं विकासखंड स्तर पर आठ  निरीक्षण दल अलग- अलग विकासखंड के लिए गठित किया गया है जो परीक्षा केंन्दों का निरीक्षण करेगें एवं जितेन्द्र कुमार पाटले जिला परियोजना अधिकारी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण ने सभी विकास खंड शिक्षा अधिकारियों को विकासखंड में कंट्रोल रूम बनाते हुए हर 2-2 घंटों में जिला कंट्रोल रूम को रिर्पोटिंग करने हेतु आदेशित किया है। जिससे सभी पंजीकृत निरक्षर परीक्षा से वंचित न हो पायें।

error: Content is protected !!