Breaking News
.

मुख्यमंत्री बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम सहित दिग्गजों की मौजूदगी में कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. केके ध्रव का नामांकन दाखिल …

मरवाही। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, मंत्री ताम्रध्वज साहू, मंत्री जयसिंह अग्रवाल सहित दिग्गजों की मौजूदगी में कांग्रेस ने पूरे जोश के साथ मरवाही उपचुनाव के लिए प्रत्याशी डॉ. केके ध्रुव का नामांकन दाखिल किया। इस कार्यक्रम में खास बात देखने को यह मिली कि कभी जोगी कांग्रेस और भाजपा में रहकर कांग्रेस को कोसने वाले आज कांग्रेस जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे।

मरवाही उपचुनाव में आज डॉ. केके ध्रुव के नामांकन में कांग्रेस ने जबरदस्त शक्ति प्रदर्शन किया। आज कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. केके ध्रुव के नामांकन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, कोरबा सांसद ज्योत्स्ना महंत सहित दर्जनों विधायक व प्रदेश कांग्रेस के बड़े नेताओं का जमावडा रहा। कांग्रेस ने इस शक्ति प्रदर्शन के माध्यम से मरवाही उपचुनाव में साफ संदेश दिया कि कांग्रेस पूरे दमखम के साथ इस चुनाव को लड़ेगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस बार मरवाही में कांग्रेस की जीत के प्रति आश्वस्त नजर आए और उन्होंने कहा कि मरवाही में इस बार कांग्रेस का विधायक ही बैठेगा।इससे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हेलीकाप्टर से कोरबा के पसान में उतरे और बाई कार गौरेला आये और नामांकन के बाद पेंड्रा के केशव कुंज में एक जनसभा को सम्बोधित किया।

जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने डॉ. केके ध्रुव का परिचय कराते हुए कहा कि इनको जिताने से समाज की समस्याओं के साथ ही साथ बीमारियों का भी इलाज करेंगे। उन्होंने कहा कि ये डॉ. यहाँ पैदा नहीं हुए हैं पर यहाँ 20 साल से रह रहे हैं। जबकि भाजपा के डॉ. यहाँ पैदा हुए पर, यहां नहीं रायपुर में रहते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मरवाही की कभी उपेक्षा हम लोग नहीं किये।

उन्होंने डॉ. रमन सिंह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मरवाही का विकास हमारे शासन काल में हुआ है। डॉ. रमन सिंह तो केवल राशन कार्ड काटने का काम किया है। कामधाम कुछ नहीं किये हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा केवल जनता को परेशान करने का काम करती है जबकि हमारी सरकार जनता के हित में कार्य करती हैं। उन्होंने कहा कि मरवाही में केवल कांग्रेस के विधायक ही विकास किये हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके साथ ही केंद्र की मोदी सरकार पर भी जमकर हल्ला बोला। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार किसी कर्मचारी का वेतन नहीं काटा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार शिक्षकों के नियमितीकरण से लेकर बजट देने और नवीन शिक्षकों की भर्ती का कार्य भी किया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना काल में भी मंदी नहीं आई।

पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मरवाही क्षेत्र में अभी तक फर्जी आदिवासी ही राज करते आ रहे हैं। अब उन्हें लड़ने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि मरवाही की जनता अब फर्जी आदिवासी को नहीं बल्कि विकास को वोट करेगी।

कार्यक्रम में मुख्मंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, सांसद ज्योत्स्ना महंत, विधायक शैलेष पांडेय, विधायक मोहित केरकेट्टा, कुंवर निषाद, चंद्रभान बरमते सहित आरपी सिंह, गिरीश देवांगन, विजय केशरवानी, उत्तम वासुदेव, मनोज गुप्ता, अर्जुन तिवारी, मोहन लाल शुक्ला, घनश्याम ठाकुर, नरेंद्र राय, ज्ञानेंद्र उपाध्याय, गुलाब राज, शंकर कंवर, शिव नारायण तिवारी, पंकज तिवारी, अजित श्याम, ममता पैकरा, अमन शर्मा, राकेश जलान, आकाश शर्मा, आशा मरावी, गंगोत्री राठौर, गजमति भानू, नारायण शर्मा, रमेश साहू, पहलवान सिंह जैसे सैकड़ों नेता व हजारों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि सभी को कांग्रेस प्रत्याशीर डॉ. गंभीर सिंह को गंभीरता से लेना है और जिनको जिन बूथों व सेक्टरों की जिम्मेदारी मिली है वो सभी गम्भीरता से इसे लें और मरवाही में कांग्रेस का परचम लहराएं।

 

error: Content is protected !!