नई दिल्ली

नीतीश की नई सरकार: NDA और BJP के हाथ से निकला बिहार, कौन लड़ेगा “नरेंद्र” मोदी के साथ 2024 का चुनाव …

नई दिल्ली। बिहार में जेडीयू और बीजेपी के बीच चल रही गठबंधन की सरकार टूट गई  है। नीतीश कुमार अब एक बार फिर से राजद के साथ मिलकर नई सरकार बनाने जा रहे हैं। आज शाम को राज्यपाल से मिलकर नीतीश कुमार अपना इस्तीफा सौंप देंगे और नई सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। अब सवाल यह उठने लगा है कि बिहार एनडीए से जेडीयू के अलग होने के बाद 2024 का चुनाव बीजेपी (नरेंद्र मोदी) के साथ कौन लड़ेगा?

सबसे पहले बात पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह की करते हैं। जेडीयू से इस्तीफा देने के बाद आरसीपी ने कह दिया है कि वो अपने समर्थकों के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। जानकार बताते हैं कि यदि आरसीपी कोई नई राजनीतिक पार्टी बनाएंगे तो वह बीजेपी (नरेंद्र मोदी) के साथ मिलकर 2024 का चुनाव लड़ सकते हैं। वैसे भी जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने बीजेपी का बिना नाम लिए कह दिया था कि आरसीपी का तन कहीं और मन कहीं और था।

अब चिराग पासवान की बात की जाए तो वो हमेशा से भी बीजेपी के साथ खड़े रहे हैं। 2020 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान चिराग पासवान की पार्टी लोजपा ने जेडीयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार मैदान में खड़े किए लेकिन बीजेपी के विरुद्ध एक भी प्रत्याशी मैदान में नहीं उतारा था। माना जा सकता है कि चिराग पासवान की पार्टी लोजपा (रामविलास) बीजेपी (नरेंद्र मोदी) के साथ मिलकर 2024 का चुनाव  लड़ सकती है।

वहीं चिराग पासवान के चाचा और केंद्र में मंत्री पशुपति पारस की पार्टी भी बीजेपी (नरेंद्र मोदी) के साथ खड़ी हो सकती है। अब यह फैसला बीजेपी आलाकमान को होगा कि चाचा और भतीजे में से किस पार्टी के साथ जाएगी। मुकेश सहनी की पार्टी (वीआईपी) को भी अपने साथ लाने की कोशिश बीजेपी कर सकती है। हालांकि मुकेश सहनी ने बीजेपी के खिलाफ जमकर मोर्चा खोल रखा है।

Related Articles

Back to top button