Breaking News
.

सांसद वरुण गांधी ने विजय माल्या, नीरव मोदी का नाम लेकर बीजेपी सरकार पर साधा निशाना, बोले- महा भ्रष्ट है व्यवस्था ….

नई दिल्ली। पिछले काफी समय से अपनी पार्टी और मोदी सरकार को निशाना बनाने के चलते सुर्खियों में रहे भाजपा सांसद वरुण गांधी एक बार फिर से चर्चा में हैं। वरुण गांधी ने शुक्रवार को बड़े पैमाने पर बैंक धोखाधड़ी और उनके पीछे आर्थिक अपराधियों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा।

आर्थिक अपराधियों विजय माल्या, नीरव मोदी और ऋषि अग्रवाल का नाम लेते हुए वरुण गांधी ने सरकार पर हमला बोला। बता दें कि बैंक धोखाधड़ी के मामलों में जहां विजय माल्या और नीरव मोदी के नाम हर कोई जानता है तो वहीं इस लिस्ट में ऋषि अग्रवाल का नाम नया है। ऋषि अग्रवाल एबीजी शिपयार्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं और वे वर्तमान में बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी के लिए जांच के दायरे में हैं।

जब जांच एजेंसियों ने उनकी कंपनियों द्वारा बड़े पैमाने पर बैंक धोखाधड़ी का पता लगाया तो भगोड़े कारोबारी विजय माल्या और नीरव मोदी देश से फरार हो गए। जहां माल्या पर अनुमानित  9,000 करोड़ रुपये और नीरव मोदी पर 14,000 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी का आरोप है। वहीं ऋषि अग्रवाल लगभग ₹ 23,000 करोड़ के घोटाले के केंद्र में हैं – माना जाता है कि यह देश का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला है।

वरुण गांधी ने केंद्र पर कटाक्ष करते हुए कहा कि ऐसे भ्रष्टाचार के खिलाफ “मजबूत सरकार” से “मजबूत कार्रवाई” की उम्मीद है। वरुण गांधी ने ट्वीट कर लिखा, “विजय माल्या: 9000 करोड़, नीरव मोदी: 14000 करोड़, ऋषि अग्रवाल: 23000 करोड़, आज जब कर्ज के बोझ तले दब कर देश में रोज लगभग 14 लोग आत्महत्या कर रहे हैं, तब ऐसे धन पशुओं का जीवन वैभव के चरम पर है। इस महा भ्रष्ट व्यवस्था पर एक ‘मजबूत सरकार’ से ‘मजबूत कार्यवाही’ की अपेक्षा की जाती है।”

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से सांसद, वरुण गांधी हाल के कई मुद्दों पर सरकार के रुख की कड़ी आलोचना करते रहे हैं। उन्होंने तीन कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध को संभालने के लिए केंद्र पर निशाना साधा था, जो अंततः आंदोलन के कारण निरस्त कर दिए गए थे।

उन्होंने साल भर के विरोध प्रदर्शन के दौरान किसानों की मौत के लिए मुआवजे की भी मांग की थी और केंद्र से केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष के खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने का आग्रह किया था। आशीष मिश्रा पर उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान किसानों को कुचलने का आरोप है।

 

error: Content is protected !!