Breaking News
.

एमपी स्कूल शिक्षा विभाग ने की स्कूलों की छुट्टियों की घोषणा : दशहरे पर 3 और दिवाली पर 5 दिन बंद रहेंगे स्कूल…

भोपाल। मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग ने बड़ी घोषणा की है. प्रदेश के सरकारी और निजी स्कूल में छुट्टियां बढ़ा दी गई हैं. इस बार दशहरे पर 3 दिन और दिवाली पर 5 दिन स्कूल बंद रहेंगे. सर्दियों में 6 दिन के विंटर वैकेशन और गर्मियों में डेढ़ महीने की छुट्टी होगी.

 

स्कूल शिक्षा विभाग ने इसके आदेश जारी कर दिए. विभाग के आदेश के मुताबिक, दशहरे की छुट्टी 14 से 16 अक्टूबर और दिवाली की 2 से 6 नंवबर तक छुट्टी होगी. विंटर वैकेशन 25 से 31 दिसंबर तक होगा, जबकि समर वैकैशन अगले साल 1 मई से 16 जून होगा. स्कूलों के शिक्षकों की छुट्टी 1 मई से 9 जून तक होगी.

 

कॉलेजों में 6 लाख स्टूडेंट्स ने लिया दाखिला

इधर, प्रदेश के कॉलेजों में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स की संख्या बढ़ी है. प्रदेश के सरकारी और निजी कॉलेजों में 6 लाख से ज्यादा एडमिशन हुए है. 1301 सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में इस शिक्षण सत्र में अब तक 6 लाख स्टूडेंट्स ने प्रवेश लिया है. इसमें 75 प्रतिशत एडमिशन सरकारी कॉलेजों में हुए हैं. बीते साल के मुकाबले इस बार एडमिशन में 2.14%का इजाफा हुआ है.

 

2.14% बढ़े सरकारी कॉलेजों में एडमिशन

पिछले शैक्षणिक सत्र में सरकारी कॉलेजों में 5.64 लाख छात्र छात्राओं ने एडमिशन लिया था. इस साल यूजी और पीजी में 7.78 लाख स्टूडेंट्स ने पंजीयन कराया था. अभी तक 7.10 लाख स्टूडेंट्स का सत्यापन हुआ है. उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव का कहना कहा है कि प्रदेश में जीईआर बढ़ाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. इसी के चलते इस साल कॉलेजों में रिकॉर्ड 6 लाख विद्यार्थियो का एडमिशन हुआ है.

 

1 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स वेटिंग लिस्ट में

उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का कहना है कि अभी लगभग 1 लाख स्टूडेंट्स वेटिंग लिस्ट में है. विभाग ने फीस जमा करने की तारीख 10 अक्टूबर से बढ़ाकर 14 अक्टूबर कर दी है.उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का कहना है कि हमारी कोशिश रहेगी कि हर विद्यार्थी को अपनी पसंद के विषय अनुसार प्रवेश मिले और सभी को एडमिशन दिए जाएंगे. राष्ट्रीय शिक्षा नीति में विद्यार्थी अपने रुझान के अनुरूप विषयों का चुनाव कर सकेंगे.

 

सरकारी कॉलेजों में बढ़ी 25 फीसदी सीटें

मप्र में इस बार कक्षा 12वीं में सभी छात्रों को पास किया गया है. ऐसे में कॉलेजों में एडमिशन का आंकड़ा बढ़ने को लेकर उच्च शिक्षा विभाग ने पहले से तैयारियां की थी. प्रदेशभर के सभी सरकारी कॉलेजों में 25 फीट की सीटें बढ़ाई गई है. बड़ी संख्या में एडमिशन लेने वाले छात्र-छात्राओं को कॉलेज में एडमिशन दिया जा सके. सीटें बढ़ाने के बाद भी फिलहाल एक लाख से ज्यादा छात्र छात्राएं वेटिंग लिस्ट में है. ऐसे में अभी और सीटें बढ़ाकर स्टूडेंट्स को एडमिशन देने की तैयारी उच्च शिक्षा विभाग कर रहा है, जिससे सभी छात्र-छात्राओं को अपने मनपसंद विषयों में प्रवेश दिलाया जा सके.

error: Content is protected !!