Breaking News
.

कालीचरण की गिरफ्तारी पर बचाव में आए MP के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, कहा- संघीय मर्यादाएं इसकी अनुमति नहीं देती, CM भूपेश बघेल ने पूछा- खुश हैं या दुखी …

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर अपमानजनक टिप्पणी व पंडित नाथूराम गोड़से को प्रणाम करने वाले कालीचरण की गिरफ्तारी के बाद मध्य प्रदेश सरकार के गृहमंत्री नरोंत्तम मिश्रा पंडित  कालीचरण के बचाम में आ गए हैं। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने एमपी को सूचना दिए बगैर कालीचरण की गिरफ्तारी को संघीय ढाचे के खिलाफ बताया तो इधर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने गिरफ्तारी को जायज ठहराया है। सीएम भूपेश बघेल ने कालीचरण की गिरफ्तारी पर लिखा कि न्याय में इतना विलम्ब नहीं होना चाहिए कि वो अन्याय लगने लगे। श्री बघेल ने विधिक प्रावधान की तहत पंडित कालीचरण की गिरफ्तारी की बात कही है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पंडित नरोत्तम मिश्राजी यह बताएं कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को गाली देने वाले की गिरफ्तारी से वे खुश हैं या दुखी…।

सीएम श्री बघेल ने कार्रवाई की जानकारी देते हुए ट्वीट के जरिए कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने पंडित कालीचरण के परिवार और वकील को उनकी गिरफ्तारी की सूचना दे दी है। 24 घंटे के अंदर उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। सीएम ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जिन्होंने विश्व को सत्य, अहिंसा, समानता, भाईचारा और शांति का संदेश दिया है। ऐसे महात्मा पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने वाले पर कड़ी कार्रवाई होगी।

इधर भिलाई विधायक देवेंद्र यादव ने ट्वीट कर कहा कि इतिहास गवाह है कि हर अधर्मी अपने कुकृत्यों को अंजाम देने के लिए धर्म की आड़ लेता है। सीताहरण के लिए रावण साधु बना तो कंस ने राज्योत्सव में आमंत्रित कर श्रीकृष्ण का वध करना चाहा। अब पंडित कालीचरण जैसे पाखंडी आये हैं जो धर्म की आड़ में देश के विभूतियों को कलंकित कर रहे हैं। पंडित कालीचरण की गिरफ्तारी पर विधायक देवेंद्र ने छत्तीसगढ़ पुलिस की सराहना की है।

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री पंडित मिश्रा ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने संघीय ढांचे का उल्लंघन किया है। संघीय मर्यादाएं इसकी अनुमति नहीं देती हैं। अगर पंडित कालीचरण की गिरफ्तारी करना थी तो नोटिस भी दिया जा सकता था। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने जिस तरीके से गिरफ्तारी की है, वह बेहद गलत है। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री की आपत्ति पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पंडित नरोत्तम मिश्राजी यह बताएं कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को गाली देने वाले की गिरफ्तारी से वे खुश हैं या दुखी हैं। भूपेश ने यह भी कहा कि किसी नियम का उल्लंघन नहीं हुआ है। इधर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री द्वारा गिरफ्तारी पर आपत्ति जताने पर छत्तीसगढ़ के नेताओं ने शिवराज सरकार की मंशा पर भी सवाल उठाए हैं।

error: Content is protected !!