Breaking News
.

दिल्ली में डेंगू के 1500 से ज्यादा मामले, केन्द्र ने 9 राज्यों में भेजी तकनीकी विशेषज्ञों की टीम…

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बाद अब डेंगू का प्रकोप बढ़ता जा रहा हैं। दिल्ली में ही 1500 से ज्यादा डेंगू के मामले सामने आए हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नौ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में मदद के लिए विशेषज्ञों की टीम भेजी हैं। केंद्र ने यह फैसला हरियाणा, पंजाब, केरल, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर में तेजी से बढ़ रहे डेंगू के मामलों को देखते हुए लिया है।

बता दें कि 31 अक्टूबर तक देश में जितने भी डेंगू के मामले आएं हैं उनमें इन राज्यों का योगदान 86% है। विशेषज्ञ टीमों में राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र व मच्छर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अधिकारी शामिल हैं।

वहीं अगर राष्ट्रीय राजधानी में डेंगू के मामलों को देखें तो दिल्ली में इस साल अभी तक 1530 डेंगू के मामले सामने आए हैं। इसमें अक्टूबर में ही 1200 मामले सामने आ गए थे। यह आंकड़े पिछले चार सालों में सबसे अधिक है।

वहीं महाराष्ट्र के पुणे में भी 168 मामले अक्टूबर महीने में आए थे। इसके अलावा चंडीगढ़ में अब तक 33 लोगों की डेंगू की वजह से मौत हो चुकी है। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में डेंगू के 1000 से ज्यादा मरीज पाए गए हैं। इसमें 68 फीसदी मामले अक्टूबर में सामने आए। मध्य प्रदेश में डेंगू मरीजों की संख्या इस साल 10 हजार 500 से ऊपर जा पहुंची है।

बता दें कि मध्य प्रदेश में हालत यह है कि सभी जिलों में डेंगू के मरीज पाए गए हैं। इस साल 2015 के बाद से डेंगू के मरीजों के सबसे अधिक मामले मिले हैं। हालांकि तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच राहत की बात यह भी है कि मरीजों की हालत अधिक गंभीर नहीं हो रही है। अब तक मिले मरीजों में करीब 45 फीसदी ही ऐसे हैं जिन्हें अस्पताल जाने की जरूरत पड़ी है।

गौरतलब है कि डेंगू के वायरस संक्रमित एडीज प्रजाति के मच्छरों के काटने से लोगों में फैलते हैं। इसकी चपेट में आने के बाद संक्रमण से बुखार, शरीर में दर्द, उल्टी और रक्तचाप में गिरावट देखने को मिलती है।

error: Content is protected !!