Breaking News
.

विकास कार्यों को देखने सीएम योगी के साथ सड़कों पर पैदल घूमे मोदी…

वाराणसी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार की रात क्रूज पर मुख्यमंत्रियों व डिप्टी सीएम के साथ बैठक करने के बाद विकास कार्यों को देखने के बाद बरेका परिसर स्थित अतिथि गृह रवाना हुए। सुंदरपुर में अचानक फ्लीट रुकवाकर काशी विश्वनाथ धाम चल पड़े। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद थे।पीएम की फ्लीट गोदौलिया चौराहा पर रुक गई। प्रधानमंत्री यहां उतरे और सीएम योगी के साथ पैदल गोदौलिया-दशाश्वमेध मार्ग के विकास कार्य को देखने निकल पड़े। रातभर गुलजार रहने वाले गोदौलिया चौराहों पर अचानक पीएम व सीएम को देख लोग अचम्भित दिखे। हालांकि बिना किसी को रोके-टोके एसपीजी के सुरक्षा घेरे में पीएम-सीएम दशाश्वमेध घाट स्थित बृहस्पति भगवान मंदिर तक पहुंचे। यहां से घाट तक के मार्ग को निहारा। विकास प्राधिकरण की ओर से निर्माणाधीन टूरिस्ट प्लाजा के बारे में मुख्यमंत्री ने पीएम को जानकारी दी। वहां से दोनों लौटने लगे। रास्ते में मुख्यमंत्री पीएम को विकास कार्य की जानकारी दे रहे थे। चौराहे पर मल्टीलेवल पार्किंग के बारे में बताया। करीब 20 मिनट तक भ्रमण के बाद काशी विश्वनाथ धाम रवाना हुए।

प्रधानमंत्री रात्रि करीब 1 बजे काशी विश्वनाथ धाम के गोदौलिया गेट पहुंचे। यहां रात 9 बजे पीएम के आने की जानकारी पहले से मंदिर प्रशासन को दी गयी थी, लेकिन बैठक के काफी देर तक चलने और फ्लीट के बरेका रवाना होने की जानकारी पर तैनात अधिकारी व कर्मचारी मंदिर परिसर से निकलकर गेट पर आ गये थे। पीएम के अचानक धाम पहुंचने की जानकारी पर तत्काल तैयारी करायी गयी। पीएम व सीएम का काफिला पहुंचा तो थोड़ी देर के लिए अफरातफरी हो गयी। दोनों नेता ज्ञानवापी होते पश्चिमी द्वार से मंदिर परिसर में प्रवेश किये। यहां रंग-बिरंगी लाइटों में धाम की छटा निहारते रहे। पीएम पैदल ही मंदिर चौक होते ही गंगा तट तक पहुंचे। लाइटों की सजावट को बारीकी से निहारा। करीब 25 मिनट बाद वह रवाना हुए।

पीएम मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रात 1.05 बजे बनारस रेलवे स्टेशन पहुंचे। सर्कुलेटिंग एरिया में स्थित भाप के मॉडल रेल इंजन के पास रुके। सर्कुलेटिंग एरिया में टहलकर बाहर से भवन को देखा। तालाब और पार्क की सजावट देखी। इसके बाद यात्री हाल में गये। वहां अर्द्धनारीश्वर की उकेरी गई आकृति देखी। इसके बाद प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर पहुंचे। वहां से भूतल पर स्थित वीआईपी लाउंज में गये। वीआईपी लाउंज को देख मुख्यमंत्री से बोले, यह एयरपोर्ट के वीआईपी लाउंज की तरह है। इसके बाद पीएम और सीएम 1.18 बजे यहां से निकल गये।

error: Content is protected !!