Breaking News
.

नाबालिग से गैंगरेप: नेतागिरी के लिए आए थे भोपाल, होटल में किया एन्जॉय, अब जाएंगे जेल, डिंडोरी के भाजपा और जदयू नेता गिरफ्तार…

भोपाल। राजधानी की अशोका गार्डन पुलिस ने हरियाणा की एक किशोरी के साथ होटल में गैंगरेप के आरोप में डिंडोरी के भाजपा नेता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों में जनता दल यूनाइटेड का डिंडोरी जिलाध्यक्ष भी शामिल है। डिंडोरी के पेट्रोल पंप मालिक समेत दो महिलाओं और भोपाल के शेर खान समेत सभी आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार भाजपा का जिला कार्यालय मंत्री मनीष नायक जनता दल का जिलाध्यक्ष दिनेश अवधिया और पेट्रोल पंप मालिक अमित सोनी के जिले के एक बड़े भाजपा नेता के साथ भोपाल आए थे। इन लोगों ने अशोका गार्डन स्थित एक होटल में कमरा किराए पर लिया था। यहां उन्होंने पार्टी और सरकार से जुड़े कई लोगों के साथ मिलकर फोटो भी खिंचवाई थी और इन फोटोज को उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट भी किया था। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि डिंडोरी के जो बड़े भाजपा नेता भोपाल आए थे, वे दुष्कर्म के वक्त होटल में नहीं थे। अशोका गार्डन थाना प्रभारी आलोक श्रीवास्तव के अनुसार 18 अगस्त को नाबालिग ने थाने आकर शिकायत की थी कि उसे दो महिलाएं देह व्यापार कराने के लिए मजबूर कर उसे गलत काम करा रही हैं। जांच शुरू की तो पुलिस ने पारुल और सीमा नाम की दो महिलाओं को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पूरा मामला सामने आया। इस मामले में पुलिस ने मानव तस्करी, दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की है।

पलवल हरियाणा की रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी 13 अगस्त को अपने परिजनों से विवाद करने के बाद घर से भागी थी। वह ट्रेन में बैठकर आगरा पहुंची, जहां उसे रेलवे स्टेशन पर भोपाल की दो महिलाएं सीमा और पारुल गुप्ता मिलीं। महिलाओं ने जब नाबालिग को रेलवे स्टेशन पर अकेला देखा तो उससे बातचीत की। महिलाओं ने उससे पूछा कि वह कहां जा रही है? इस पर नाबालिग ने उनको मुंबई जाने की बात कही थी। इस महिलाओं ने उससे कहा कि वह मुंबई से अच्छी नौकरी भोपाल में दिलवा सकती हैं।

नाबालिग को महिलाएं झांसा देकर भोपाल लेकर आ गई थीं और अपने साथ रखा था। उसे दो दिन रखने के बाद उससे तीन दिन में दो होटलों में ले जाकर देह व्यापार कराया गया। पुलिस ने अशोका गार्डन के एक होटल के सीसीटीवी को खंगाला, जहां पुलिस को नाबालिग होटल के कमरे में जाती नजर आ रही थी। इसे आधार बनाकर पुलिस ने इस मामले में पूर्व में एक ग्राहक और दो महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया था। बाद में नाबालिग ने टीटी नगर के पंचशील नगर के होटल में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म बात कही तो पुलिस ने उस होटल के सीसीटीवी भी खंगाले, जिसमें नाबालिग से गलत काम कराने वाली महिला नजर आ रही थी और तीन लोग भी दिखाई दिए। उन तीनों की पहचान डिंडोरी के रहने वालों के रूप में हुई। नाबालिग ने बताया कि यह तीनों अपने आप को डिंडौरी के नेता बता रहे थे।

इस मामले में पुलिस ने मंगलवार को डिंडौरी पहुंचकर भाजपा के जिला कार्यालय मंत्री व व्यापारी मनीष नायक, जेडीयू जिलाध्यक्ष दिनेश अवधिया और पेट्रोल पंप संचालक व जेडीयू महासचिव अमित सोनी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस डिंडौरी से गिरफ्तार कर उनको बुधवार तड़के भोपाल लाई और उनकी शिनाख्त कराई। टीआई आलोक श्रीवास्तव का कहना है कि दोनों महिलाओं से संपर्क कर इन तीनों ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया है। उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज है।

नाबालिग देह व्यापार करने से मना करती तो दोनों महिलाएं उसके साथ मारपीट करती थी। कमरे में बंद करके रखने लगी थी। तंग आकर नाबालिग ने अशोका गार्डन थाने का पता करने के बाद पूरे घटनाक्रम की थाने में शिकायत की। इस पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। बाद में जांच के बाद पुलिस डिंडौरी के इन रसूखदारों तक पहुंच गई थी। बाद में पुलिस ने नाबालिग के परिजनों को सूचना देकर भोपाल बुलाया और उसे उनके सुपुर्द कर दिया है। इस मामले में डिंडोरी जिला भाजपा के एक बड़े नेता की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

error: Content is protected !!