Breaking News
.

चार नदियों में खनन बंद-डंपर हुए खड़े, जानिए माईनिंग को और कितने महीने करना होगा इंतजार …

रामनगर। उत्तराखंड में गौला, नंधौर सहित चार नदियों में इस सत्र का खनन बंद हो गया। इससे 11 हजार से ज्यादा डंपर खड़े हो गए हैं। इस बार दोनों नदियों में लक्ष्य के सापेक्ष कम खनन हुआ, इससे डंपर कारोबारियों को नुकसान झेलना पड़ा। वहीं रामनगर में कोसी और दाबका में भी खनन बंद हो गया है।

केन्द्रीय मृदा सर्वेक्षण की टीम ने गौला में इस सत्र में 38.24 लाख घनमीटर खनन का लक्ष्य दिया था। इसके मुकाबले 36.75 लाख घन मीटर ही खनन हो पाया। नियमानुसार 31 मई को गौला बंद होती है इसी के तहत मंगलवार को यहां काम बंद कर दिया। इसके चलते गौला के 11 गेटों में खनन करने वाले करीब 7500 डंपर खड़े हो गए। वहीं यूपी बिहार के मजदूर भी लौटने शुरू हो गए हैं।

गौला से सरकार के खजाने में 1 अरब 85 करोड़ रुपये पहुंचे। गौला में लक्ष्य से कम खनन की मार डंपर कारोबारियों पर सबसे ज्यादा पड़ी है। वहीं नंधौर नदी में 7 लाख 2 हजार घन मी. का लक्ष्य था। वहां 7 लाख 1500 घनमी. खनन हो पाया। नंधौर में खनन बंद होने से 3500 डंपर खड़े हो गए हैं।

error: Content is protected !!