Breaking News
.

अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) परीक्षा देने आए सर्व समाज के अभ्यर्थियों के लिए की मीणा समाज व एफडीपी ने पूरे राज्य में नि:शुल्क रहने-खाने की व्यवस्था..

जयपुर । आदिवासी मीणा समाज व फेसबुक देशी परिवार (एफडीपी) की ओर से राज्य के सभी जिलों में राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की परीक्षा देने आए सर्व समाज के छात्रों के लिए रहने व खाने की नि:शुल्क व्यवस्था की गई। सामाजिक कार्यकर्ता व फेसबुक देशी परिवार (एफडीपी) के मीडिया चेयरपर्सन मोहरसिंह सलावद ने बताया कि आदिवासी मीणा समाज व एफडीपी की ओर से माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा आयोजित राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की परीक्षा देने आए राज्य के विभिन्न जिलों में सर्व समाज के हजारों अभ्यर्थियों के लिए 25 व 26 सितंबर को जिला व ब्लॉक मुख्यालय पर शानदार व्यवस्था की।

सामाजिक कार्यकर्त्ता व एफडीपी मीडिया चेयरपर्सन मोहरसिंह सलावद ने बताया की मीणा समाज ओर एफडीपी पूर्व में प्रतियोगी परीक्षाओं में भारत के सभी राज्यों में ऐसी व्यवस्था कर चुका है। इस व्यवस्था में आदिवासी मीणा समाज के अधिकारी कर्मचारी सहयोग करते है। रीट परीक्षा में एफडीपी की ओर से सुरेश गुरुजी ने बांदीकुई, सुरेश मीना ने सूरौठ, हेमराज मालावास ने नागौर, अशोक बडौली और भारमल मीणा ने चित्तौडग़ढ़ में, जोधपुर में मलखान महर, बुधराम महर, अशोक बूचपुरी, रोहितास सिहरा, बीकानेर में मोहरसिंह सलावद, भूरसिंह मंडेरु आदि ने व्यवस्थाओं में सहयोग किया।

मीडिया चेयरपर्सन मोहरसिंह सलावद ने बताया की सर्व समाज के अभ्यर्थियों के लिए निस्वार्थ भाव से सेवा आदिवासी मीणा समाज हमेशा से करता आया है। दिन- रात व्यवस्था संभालने वाले समाज के युवाओं का एफडीपी की ओर से सम्मान किया जाएगा। साथ ही इस प्रकार से सहयोग आगे भी जारी रहेगा।

error: Content is protected !!