Breaking News
.

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के घर के बाहर हुए प्रदर्शन पर बोले मनीष तिवारी- यह उपद्रव नहीं तो क्या है …

नई दिल्ली । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल की ओर से पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़ा किये जाने के बाद पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने बुधवार को सिब्बल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया और उनके खिलाफ नारेबाजी की। कांग्रेस नेता के घर के बाहर काफी हंगामा हुआ भी हुआ था। सिब्बल के आवास के बाहर पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्ती ले रखी थी जिस पर ‘गेट वेल सून सिब्बल’ (सिब्बल आप जल्द स्वस्थ हों) लिखा हुआ था। उन्होंने ‘गद्दारों को पार्टी से बाहर निकालो’ के नारे भी लगाए।

अब इस हंगामे पर कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर कहा, ‘ जो लोग पिछली रात नेतृत्व के प्रदर्शन को डिफेंड कर रहे थे…उसके बाद कपिल सिब्बल के घर के बाहर क्या हुआ…उनलोगों ने गाड़ी को नुकसान पहुंचाया। गाड़ी के ऊपर खड़े हो गये। घर के अंदर और बाहर टमाटर फेंके गये। अगर यह उपद्रव नहीं तो फिर क्या है? कांग्रेस की दिल्ली इकाई के एक वरिष्ठ नेता ने कहा था, ”सिब्बल साहब ने जो बयान दिया है और जिस तरह से हमारी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर सवाल खड़े किए हैं, उससे कार्यकर्ता बहुत आहत हैं। कार्यकर्ता अपने आप उनके आवास के बाहर पहुंचे और प्रदर्शन किया।”

दरअसल सिब्बल ने पार्टी की पंजाब इकाई में मचे घमासान और कांग्रेस की मौजूदा स्थिति को लेकर बुधवार को पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़े किए थे और कहा था कि कांग्रेस कार्य समिति की बैठक बुलाकर इस स्थिति पर चर्चा होनी चाहिए तथा संगठनात्मक चुनाव कराये जाने चाहिए। उन्होंने कई नेताओं के पार्टी छोड़ने का उल्लेख करते हुए गांधी परिवार पर इशारों-इशारों में कटाक्ष किया था कि ”जो लोग इनके खासमखास थे वो छोड़कर चले गए, लेकिन जिन्हें वे खासमखास नहीं मानते वे आज भी इनके साथ खड़े हैं।” सिब्बल ने जोर देकर कहा, ”हम ‘जी हुजूर 23’ नहीं हैं। हम अपनी बात रखते रहेंगे।”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कापिल सिब्बल की ओर से पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किये जाने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन समेत कांग्रेस के कई नेताओं ने सिब्बल पर निशाना साधा और कहा कि जिस पार्टी ने उन्हें सब कुछ दिया, उसे नीचा नहीं दिखाना चाहिए। माकन ने आरोप लगाया कि सिब्बल जैसे नेता पार्टी के उन कार्यकर्ताओं का हौसला पस्त कर रहे हैं जो कांग्रेस की विचारधारा के साथ खड़े हैं।

उन्होंने कहा, ”श्री सिब्बल से मेरी अपील है कि आपको उस पार्टी को नीचा नहीं दिखाना चाहिए जिसने आपको राजनीतिक पहचान दी।” छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव ने ट्वीट कर कहा, ”कांग्रेस का सक्षम नेतृत्व सोनिया गांधी जी कर रही हैं और वह फैसले कर रही हैं। कपिल सिब्बल जैसे अनुभवी नेता के लिए यह हल्की बात है कि वह गुमराह करें या खुद गुमराह हों। कांग्रेस सिर्फ एक पार्टी नहीं, बल्कि एक विचारधारा है और यह विचारधारा जीवनभर के लिए है।”

error: Content is protected !!