Breaking News
.
मोहम्मकद रफीक (दांए) एवं रवि विजय कुमार मलिमथ (बांए)

एमपी हाई कोर्ट के नए चीफ जस्टिस होंगे मलिमथ, मोहम्मज रफीक को हिमाचल हाई कोर्ट स्थानांतरित किया…

भोपाल/जबलपुर। मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश मोहम्मद रफीक को हिमाचल हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बतौर स्थानांतरित कर दिया गया है। जबकि, हिमाचल हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रवि विजय कुमार मलिमथ को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया है। इस आशय के आदेश विधि व न्याय मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से जारी कर दिए गए हैं। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की अनुशंसा के बाद राष्ट्रपति ने दोनों की नवीन पदस्थापना के आदेशों पर मुहर लगा दी है।

 

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के नए मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रवि मलिमथ का जन्म 25 मई, 1962 को हुआ था। 28 जनवरी, 1987 को उन्होंने वकालत के क्षेत्र में कदम रखा था। उन्होंने कर्नाटक व मद्रास हाई कोर्ट के अलावा सुप्रीम कोर्ट में सिविल, आपराधिक, संवैधानिक, श्रम, कंपनी सहित अन्य मामलों की पैरवी कर प्रतिमान दर्ज किए। 18 फरवरी, 2008 को कर्नाटक हाई कोर्ट के न्यायाधीश नियुक्त हुए थे। वे वर्तमान में हिमाचल हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। इससे पूर्व वे उत्तराखंड हाई कोर्ट के भी कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं। कर्नाटक हाई कोर्ट के जज के रूप में भी उनका कार्यकाल यादगार रहा।

 

इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की अनुशंसा पर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के प्रशासनिक न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव को कोलकाता हाई कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। जबकि मध्य प्रदेश हाई कोर्ट से पिछले दिनों स्थानांतरित होकर कनार्टक हाई कोर्ट गए जस्टिस सतीश चंद्र शर्मा को तेलंगाना हाई कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। दोनों ने मध्य प्रदेश हाई कोर्ट से वकालत की शुरूआत करने के बाद यहीं न्यायाधीश नियुक्त होने का गौरव अर्जित किया था। मुख्य न्यायाधीश मोहम्मद रफीक ने 3 जनवरी, 2021 को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में अपना पदभार संभाला था। अपने 9 माह के कार्यकाल में उन्होंने मध्य प्रदेश हाई कोर्ट की कार्य संस्कृति के साथ तालमेल बैठाकर सभी का दिल जीत लिया। उन्होंने कोविड काल में हायब्रिड सुनवाई की व्यवस्था देकर एक आयाम स्थापित किया है।

error: Content is protected !!