Breaking News
.

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री मिश्रा जोमैटो पर भड़के, कहा- कोई हादसा हुआ तो जिम्मेदार होगी कंपनी ….

भोपाल। खबरों में बने रहने वाले मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने खाद्य वितरण कंपनी जोमैटो की 10 मिनट में भोजन पहुंचाने का वादा करने वाली नई सेवा को डिलीवरी करने वाले और सड़क पर चलने वाले लोगों के जीवन को खतरे में डालने वाला करार दिया। मंत्री ने कंपनी से इसमें तुरंत बदलाव करने के लिए कहा है।

मिश्रा ने शुक्रवार को कहा कि जोमैटो या किसी भी कंपनी को यातायात नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इंस्टेंट डिलीवरी प्रक्रिया के दौरान होने वाले यातायात नियमों के उल्लंघन या हादसों के लिए कंपनी को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। मिश्रा ने कहा कि जोमैटो की 10 मिनट में खाना पहुंचाने की सेवा अपने कर्मचारियों (डिलीवरी सहयोगी) के साथ-साथ अन्य लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने जैसा है।

मिश्रा ने कहा, ‘जोमैटो या किसी को भी मध्य प्रदेश में यातायात नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। किसी भी हादसे की जिम्मेदारी कंपनी की होगी इसलिए आप कृपा कर ऐसा न करें।’ उन्होंने कहा कि भोजन देने वाला व्यक्ति शहर की बीच से केवल तेजी और खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाकर ही 10 मिनट में चार किलोमीटर के गंतव्य तक पहुंच सकता है। इसलिए यह सेवा लोगों के जीवन के लिए खतरनाक होगी।

आपको बता दें कि जोमैटो की संस्थापक दीपिंदर गोयल ने सोमवार को ट्वीट कर जोमैटो त्वरित सेवा शुरू करने की घोषणा की है। गोयल ने कहा कि 10 मिनट की डिलीवरी सेवा ग्राहकों को चुनिंदा ठिकानों और कुछ खाद्य पदार्थों के लिए उपलब्ध होगी। इसमें देर से डिलीवरी करने के लिए कोई फाइन नहीं है और समय पर डिलीवरी के लिए भी कोई प्रोत्साहन नहीं है।

error: Content is protected !!