Breaking News
.

बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाया, पीसी शर्मा बोले- नरोत्तम मिश्रा के इशारों पर राजेंद्र भारती के खिलाफ दर्ज हुए झूठे केस’…

भोपाल. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी शर्मा ने मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पर जमकर हमला किया है. पूर्व मंत्री और विधायक पीसी शर्मा ने कहा, ‘मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार प्रदेश में जंगलराज कायम करने पर आमादा है. कांग्रेस के नेताओं को प्रताड़ित करना, उन पर झूठे मामले लगाना आम बात होती जा रही है. पीसी शर्मा ने कहा कि दतिया से कांग्रेस के पूर्व विधायक राजेंद्र भारती पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के दबाव में इसी तरह से गाड़ी पर जबरन कब्जा करने का मुकदमा दतिया पुलिस ने दर्ज किया है.’

पीसी शर्मा ने दावा किया है कहा कि पुलिस ने राजेंद्र भारती पर 27 अगस्त को स्कॉर्पियो गाड़ी जबरन कब्जे में लेने का मुकदमा दर्ज किया है. जबकि पुलिस में मुकदमा लिखाने वाले व्यक्ति वीर सिंह और पंजाब सिंह वंशकार के गैराज से जो सीसीटीवी फुटेज मिला है, उसमें साफ पता चल रहा है कि 6 सितंबर तक गाड़ी उसी गैराज में रखी हुई थी. 6 सितंबर को दो पुलिस वाले सिविल ड्रेस में रिपोर्ट दिखाने वाले व्यक्तियों के गैराज से ही गाड़ी बाहर निकालते हुए दिख रहे है.

पीसी शर्मा ने कहा कि जब 6 सितंबर तक गाड़ी फरियाद करने वाली व्यक्ति के गैराज नहीं रखी थी तो आखिर राजेंद्र भारती 27 अगस्त को गाड़ी पर कब्जा कैसे कर सकते हैं? दतिया में नरोत्तम मिश्रा के इशारे पर भारती और उनके परिवार के 6 लोगों पर अब तक अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं. मध्य प्रदेश पुलिस सरकार के दबाव में पूरी तरह असंवैधानिक कार्य कर रही है और राजनीतिक विरोधियों को जानबूझकर निशाना बना रही है.

शर्मा ने कहा कि अब जब यह सीसीटीवी फुटेज सामने आ चुका है और यह स्पष्ट है कि राजेंद्र भारती के खिलाफ राजनीतिक दबाव में झूठी एफआईआर दर्ज की गई है तो शिवराज सिंह चौहान को तत्काल यह झूठा मुकदमा वापस कर आना चाहिए. जिन्होंने झूठा मुकदमा दर्ज किया है उन पर एफआईआर करनी चाहिए. पूरे मामले की मजिस्ट्रेट जांच करा कर यह पता करना चाहिए कि वह कौन से पुलिस वाले थे जो इस पूरे षडयंत्र में शामिल थे.

पीसी शर्मा का कहना है कि यह पहला मौका नहीं है जब राजेंद्र भारती को पुलिस द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है. इससे पहले शासन के दबाव में उनके परिवार का पेट्रोल पंप बंद कराया जा चुका है. उनके परिवार के तीन क्रेशर बंद किए जा चुके हैं.

error: Content is protected !!