Breaking News
.

नवरात्रि में जानें किन लोगों को नहीं करनी चाहिए व्रत…

नई दिल्ली। सर्वपितृ अमावस्या को पितृ पक्ष खत्म होते ही अगले दिन यानी कि अश्विन महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि पर्व शुरू हो जाएगा. साल में पड़ने वाली 4 नवरात्रि में से अश्विन महीने की नवरात्रि सबसे ज्यादा खास होती हैं क्‍योंकि इसमें मां दुर्गा  की आराधना करने के साथ-साथ उत्सव भी होता है. इस साल नवरात्रि का यह पर्व 7 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक चलेगा. इस दौरान धर्म-शास्त्रों में कुछ नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है, जिनका ध्यान जरूर रखना चाहिए.

 

नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये काम

– सनातन धर्म मानने वाले लोग यदि नवरात्रि का व्रत  न भी रखें तो भी उन्‍हें इस दौरान लहसुन-प्याज, नॉनवेज-शराब का सेवन गलती से भी नहीं करना चाहिए. यदि घर में घट स्‍थापना की गई है, तब तो इस नियम की अनदेखी करना बहुत बड़ा संकट ला सकता है.

– इसके अलावा जिस घर में नवरात्रि पर अखंड ज्योत जलाई गई हो, उस घर में कम से कम एक व्यक्ति को जरूर रहना चाहिए. अखंड ज्योत और घट स्थापना वाले घर को गलती से भी खाली न छोड़ें.

– देवी की पूजा करते समय काले कपड़े न पहनें. साथ ही व्रत रखने वाले लोग ब्रह्मचर्य का पालन करें.

– नवरात्रि का व्रत रख रहें तो इस दौरान बाल, नाखून न काटें, ना ही शेविंग करें. पारणा करने के अगले दिन ही यह काम करें.

 

इन लोगों को है व्रत रखने की मनाही

धर्म-शास्त्रों में बताया गया है कि किन लोगों को व्रत रखना है और किन लोगों को व्रत नहीं रखना है. यदि घर में किसी की मृत्यु हो जाए तो 13 दिन तक सूतक रहती है. यदि इस दौरान नवरात्रि पड़ें तो व्रत नहीं रखना चाहिए क्योंकि सूतक के कारण व्यक्ति पूजा नहीं कर सकता है. इसके अलावा गर्भवती महिलाओं, मरीजों, डायबिटीज के मरीजों को नवरात्रि के नौ दिन का व्रत नहीं करना चाहिए. यदि सामान्य बीमारी है तो भी डॉक्टर की सलाह से व्रत करें और इसके लिए डाइट चार्ट बनवाकर उसका पालन करें.

error: Content is protected !!