Breaking News
.

कवि सम्मेलन : कह नहीं पाऊंगा मैं तुम्हें कभी अलविदा – कुमारधर्मी…

दौसा। जिला मुख्यालय पर सिद्धि विनायक विद्या मंदिर, अयोध्या नगर में भैयादूज की शाम आजाद कलम मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष नवल घुणावत, संरक्षक राजेन्द्र सिंह यादव की उपस्थिति एवं कोषाध्यक्ष धर्मेन्द्र कुमार धर्मी के संयोजन में कवि सम्मेलन संपन्न हुआ। जिसमें 15 से अधिक राष्ट्रीय कवियों ने अपनी रचनाएं सुनाकर श्रोताओं का समा बांधा।

कार्यक्रम के मुख्यातिथि विधायक मुरारीलाल मीना एवं आयोजक व अध्यक्ष पार्षद मंजू सीताराम मीना ने सभी कवियों को प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया। कवि कुमार धर्मी ने बताया कि हास्य कवि पी के मस्त, लटूरी लट्ठ व नवल घुणावत ने अपनी व्यंग्यात्मक रचनाओं से हँसी के ठहाके लगवाए। सोनिका पंवार सवेरा ने मेरे अल्फाजों में न खोजना मेरे किरदार का अंश, सलमान सिकंदराबादी ने काले आदमी पर बीबी शक नहीं करती, अनुराग प्रेमी ने चुकाने से भी नही चुकते कर्ज पिता के, भैरू बन्धु चौहान ने पुरखों के चरणों मे प्रीत मिलती है कविताएं सुनाकर श्रोताओं को मंत्र मुग्ध किया।

नमोकार जैन नमन ने अब्दुल कलाम में जेहाद दिखने लगा सुनाकर सामाजिक सौहार्द का संदेश दिया तो दिनेश तूफानी ने वीर रस की कविता दशों दिशाएं गूंज उठी थी से देशभक्ति का संदेश दिया वहीं धर्मेन्द्र सैनी ने तेरे जज्बात दिवाली मेरे जज्बात होली है सुनाकर श्रोताओं को आनंदित किया। रामू मास्टर व भैरू नागर नखराला ने गीत सुनाकर श्रोताओं की वाही वाही लूटी तो देवेन्द्र गौतम ने बेंगू और बिजोलिया सी बस ये कहानी के माध्यम से किसानों का दर्द बयां किया एवं कुमार धर्मी ने अपनी कविता कह नही पाऊंगा मैं तुम्हें कभी अलविदा सुनाकर कार्यक्रम का समापन किया।

error: Content is protected !!