Breaking News
.

कपिल सिब्बल ने सोनिया गांधी से फिर कहा- लोगों की बातें सुनिए, हम जी-हुजूर नहीं हैं ….

नई दिल्ली। ‘जी-23’ के नेताओं के बोलने को लेकर कपिल सिब्बल ने कहा कि हम कांग्रेस पार्टी को खत्म होते और नुकसान होते नहीं देख सकते। हम पार्टी को कमजोर नहीं कर सकते हैं। हम आज भी यही कह रहे हैं कि पार्टी को बुनियादी तौर पर मजबूत कीजिए और लोगों की बातों को सुनिए। क्या पंजाब में हमारी वजह से संकट पैदा हुआ है। सिब्बल ने कहा, ‘हम (जी-23) वो लोग नहीं हैं, जो पार्टी छोड़कर कहीं और चले गए हों। यह विडंबना है कि जो उनके करीब थे, वे उन्हें छोड़कर चले गए और जिन्हें वे अपने करीब नहीं मानते हैं, वे आज भी साथ खड़े हैं।’

अपनी चिट्ठी में उन्होंने कहा, ”हम “जी हुजूर 23″ नहीं हैं। यह बहुत स्पष्ट है। हम बात करते रहेंगे। हम अपनी मांगों को दोहराना जारी रखेंगे।” आपको बता दें कि कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल, उन 23 पार्टी नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने पिछले साल कांग्रेस अध्यक्ष को एक पत्र लिखा था। उस पत्र में कई संगठनात्मक सुधारों की मांग की गई थी।

कपिल सिब्बल ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर इशारों में हमला बोलते हुए कहा कि जो उनके करीबी थे, वे भी साथ छोड़कर जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जितिन प्रसाद, ज्योतिरादित्य सिंधिया और ललितेश त्रिपाठी जैसे बड़े नेता हमें छोड़कर जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी में फिलहाल जिस तरह के हालात हैं, उस पर चर्चा करने के लिए कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक बुलाई जानी चाहिए। सिब्बल ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे पास फिलहाल कोई अध्यक्ष तक नहीं है। उन्होंने कहा कि हमें जल्द से जल्द एक निर्वाचित अध्यक्ष की जरूरत है।

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर अपनी पार्टी को बड़ा झटका दिया है। इस सियासी घटना ने कांग्रेस के ‘जी-23’ को बैठे बिठाए पार्टी के नेतृत्व पर फिर से उंगली उठाने का मौका दे दिया है। इस खेमे में शामिल पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखा है।

error: Content is protected !!