Breaking News
.

झारखंड का कैशकांड पहुंचा दिल्ली, पश्चिम बंगाल CID ने रेड से रोके जाने का किया दावा ….

नई दिल्ली। पिछले दिनों पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के तीन विधायकों से लाखों रुपए कैश बरामद किया गया, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया है। कांग्रेस पार्टी ने भाजपा पर सरकार गिराने के प्रयास का आरोप लगाया है।

कांग्रेस पार्टी ने असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा पर झारखंड में कांग्रेस-झामुमो की सरकार गिराने की कोशिश का आरोप लगाया है। कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल ने एफआईआर भी दर्ज कराई है। बताया जा रहा है कि झारखंड पुलिस की ओर से दिए गए इनपुट के आधार पर ही पश्चिम बंगाल में पुलिस ने विधायकों को पकड़ा था।

झारखंड के तीन विधायकों से पश्चिम बंगाल में लाखों कैश बरामदगी का विवाद अब दिल्ली तक पहुंच गया है। बंगाल पुलिस के सूत्रों का दावा है कि सीआईडी टीम को इस केस से जुड़े एक आरोपी के घर पर रेड से रोक दिया गया है। दावा किया गया है कि कोर्ट से वारंट होने के बावजूद डीसीपी साउथ वेस्ट ने बंगाल पुलिस की सीआईडी टीम को कार्रवाई से रोक दिया है। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने अभी इन आरोपों पर प्रतिक्रिया नहीं दी है।

आज पश्चिम बंगाल की टीम दिल्ली एक आरोपी से संबंधित सर्च ऑपरेशन करने आई थी। आरोपी के लोकेशन पर सुबह 6 बजे पश्चिम बंगाल पुलिस ने सर्च ऑपरेशन को दिया। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने पाया कि कानून के मुताबिक CrpC 96 के तहत सर्च ऑपरेशन नहीं किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस के संबंधित थाना या अन्य पुलिस अधिकारियों को सूचित भी नहीं किया गया था।

मौके पर दिल्ली पुलिस ने जब ये पूछा गया कि इस केस का IO कौन है तो वो भी नहीं बताया गया , बाद में ये बोला गया कि वो आए ही नहीं, कानून के मुताबिक IO को सर्च ऑपरेशन के वक्त मौके पर होना चाहिए था।इसी वजह से पश्चिम बंगाल की पुलिस से दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के द्वारा उन्ही मामलों पर  पूछताछ की गई थी। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक फिलहाल पश्चिम बंगाल पुलिस के किसी कर्मी को हिरासत में नहीं लिया गया है।

error: Content is protected !!