Breaking News
.

हिंदी विश्वविद्यालय की पहल : बिरसा मुंडा जयंती पर बच्चों को दी शैक्षणिक सामग्री…

वर्धा. महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ने भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को राष्ट्रीय जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया और जनजातीय गौरव सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रम एवं गतिविधियाँ संचालित की गई। इस उपलक्ष्य में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रजनीश कुमार शुक्ल की पहल और मार्गदर्शन पर सोमवार 22 नवंबर को वर्धा शहर की पांच सेवा बस्तियों जिनमें जनजातीय समाज के भाई बंधु निवास करते हैं, गिरिपेठ, शांतिनगर, नालवाडी, मसाड़ा और पवनार में लगभग 500 परिवारों को मिठाई और बच्चों के लिए शैक्षणिक सामग्री आदि का वितरण किया गया। कुलपति प्रो. शुक्ल ने अपने संदेश के माध्यम से आह्वान किया कि आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों की याद में विश्वविद्यालय की ओर से जनजातीय गौरव दिवस प्रत्येक वर्ष बड़ी धूमधाम से मनाया जाएगा। आने वाली पीढ़ियों को भारत के स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए बलिदानों से अवगत कराएगा। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने और राष्ट्रीय गौरव और आतिथ्य के भारतीय मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए आदिवासियों द्वारा किए गए प्रयासों को सम्मान देने के लिए यह अत्यंत आवश्यक है। इस दौरान विश्वविद्यालय परिवार के सदस्यों ने सभी जनजातीय बस्तियों में बच्चों को भगवान बिरसा मुंडा के साहसिक कार्यों एवं इतिहास के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर डॉ. प्रकाश नारायण त्रिपाठी, डॉ. मिथिलेश, डॉ. शिव सिंह बघेल, डॉ. आदित्य चतुर्वेदी आदि उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!