Breaking News
.

नेता-मंत्री को न्योता देने से पहले देनी होगी सूचना, KGMU ने जारी किया आदेश …

लखनऊ। केजीएमयू के किसी कार्यक्रम में अब डॉक्टर-कर्मचारी अपने स्तर से नेता-मंत्री या किसी अन्‍य वीआईपी को न्योता नहीं दे सकेंगे। नेता-मंत्री या किसी वीआईपी को बुलाने से पहले केजीएमयू प्रशासन को सूचना देनी होगी। इस संबंध मे केजीएमयू कुलपति डॉ. बिपिन पुरी ने आठ जून को आदेश जारी किया है।

केजीएमयू में विभाग स्तर पर तमाम तरह के एकेडमिक कार्यक्रम होते हैं। विभाग के अधिकारी सेमिनार व गोष्ठी में अपने स्तर से वीआईपी व माननीय को बुला लेते हैं। अब ऐसा संभव नहीं होगा। इसके लिए कुलपति से अनुमति लेनी होगी। कुलपति ने पत्र में साफ लिखा है कि माननीय, राज्यपाल, जज, आईएएस को कुलपति कार्यालय के माध्यम से ही बुलाया जाए।

इस संबंध में कुलपति ने सीएमएस, चिकित्सा अधीक्षक, सभी विभाग के अध्यक्ष, प्रॉक्टर, चीफ प्रावोस्ट, परीक्षा नियंत्रक, कुलसचिव, वित्त नियंत्रक को पत्र भेजकर अवगत करा दिया गया है।

error: Content is protected !!