Breaking News
.

राष्ट्रीय चेतना मंच का रंगारंग काव्य संध्या में मुख्य अतिथि इंदुकांत आंगिरस व विशिष्ट अतिथि कोयल विश्वास ने अपनी उपस्थिति में संपन्न …

अभिव्यक्ति राष्ट्रीय चेतना मंच की रंगारंग काव्य संध्या 1 मई 2022 रविवार को आयोजित की गई। काव्य-गोष्ठी वरिष्ठ साहित्यकारा डॉ मृदुला चौहान की अध्यक्षता में हुई। मुख्य अतिथि के रूप में प्रख्यात लेखक और अनुवादक इंदुकांत आंगिरस व विशिष्ट अतिथि के रूप में लेखिका कोयल विश्वास ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

मंच के संस्थापक डॉ० अरविंद कुमार गुप्ता और अध्यक्षा डा.मंजु गुप्ता की उपस्थिति में हुई गोष्ठी का शुभारम्भ मनजीत कौर की सुमधुर सरस्वती वंदना से हुआ। मनजीत कौर, रीता सिंह, लेफ़्टिनेंट किशोर रावत, सौभाग्य कोराले, अनुराधा के. आदि ने अलग-अलग भावनाओं से सराबोर शानदार कविताओं की प्रस्तुति दी। पटल के संरक्षक नन्द सारस्वत ‘स्वदेशी’ एवं लता नेहवाल की सुन्दर रचनाओं ने मन मोह लिया। डॉ.एस मंजूनाथ, उर्मिला श्रीवास्तव एवं अन्य कई गणमान्य श्रोता रूप में कार्यक्रम से जुड़े रहे।

मुख्य अतिथि इंदुकांत आंगिरस ने ग़ज़ल और सुन्दर गीत प्रस्तुत कर सबको आनन्द विभोर कर दिया। साथ ही कोयल विश्वास की रचना ‘पुनरावृति’ सोचने को विवश कर गई। डॉ.मंजु गुप्ता ने श्रमिक पर रचना प्रस्तुत की, अध्यक्षा मृदुला चौहान के अध्यक्षीय उद्बोधन और कश्मीर के पंडितों के दर्द को बताती रचना से गोष्ठी पूर्ण हुई।

स्वीटी सिंघल व मनोज चतुर्वेदी ने गोष्ठी को सुचारू रूप से संचालित किया और साथ ही सुंदर रचनाएँ भी प्रस्तुत कीं।  रेणु कुकरेती ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया। काव्य के अनेक रंगों से सराबोर संध्या ने सभी का मन मोह लिया।

error: Content is protected !!