Breaking News
.

हैवानियत: नीमच में मामूली विवाद, युवक को वाहन से बांधकर घसीटा, मौत, पुलिस ने 8 आरोपियों पर मामला दर्ज किया, 5 गिरफ्तार…

नीमच। जिले के सिंगोली क्षेत्र के अथवाकलां में तालिबानियों जैसी हैवानियत का मामला सामने आया है। यहां कुछ दबंगों ने एक आदिवासी को मामूली सी बात पर पहले तो बुरी तरह पीटा। फिर उसे पिकअप से बांधकर 100 मीटर तक घसीटा। गंभीर चोट आने के कारण युवक की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। गुरुवार को हुए इस दिल दहला देने वाली घटना का वीडियो शनिवार को वायरल होने पर पुलिस ने 8 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर 5 को गिरफ्तार भी कर लिया। एक कार, पिकअप वाहन व एक बाइक भी जब्त की गई है।

पुलिस के अनुसार गुरुवार सुबह कान्हा उर्फ कन्हैयालाल भील की अथवाकलां फंटा पर बाइक से टक्कर हो गई। इसके बाद विवाद बढ़ गया। कुछ देर बाद बाइक चालक ने कुछ साथियों को बुला लिया और कन्हैयालाल के साथ बुरी तरह मारपीट की गई। इसके बाद भी आरोपियों का जी नहीं भरा तो युवक को एक पिकअप वाहन के पीछे बांधकर घसीटा। आरोपी उसे करीब 100 मीटर तक घसीटते रहे। इससे वह बुरी तरह घायल हो गया। आरोपी उसे गंभीर हालत में वहीं छोड़कर भाग गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवक को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया। घटना का वीडियो वायरल होने पर एसपी सूरज कुमार वर्मा ने आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिए। विवेचना के दौरान पुलिस ने छीतरमल गुर्जर निवासी गांव पाटन को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की। साक्ष्य के आधार पर प्रकरण में धारा 304 के बाद 302 व एट्रोसिटी एक्ट का इजाफा किया गया है। पुलिस ने छीतरमल गुर्जर, अमरचंद्र गुर्जर, महेंद्र गुर्जर निवासी जेतलिया, धीरज धाकड़ निवासी गांव चल्दू, लक्ष्मण गुर्जर, सल्लू डाक्टर, गोपाल पुत्र लालू गुर्जर निवासी पाटन और लोकश निवासी सिंगोली के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। इनमें से छीतरमल, महेंद्र, गोपाल, लोकेश और लक्ष्मण को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी अनुसार 27 अगस्त को नाइयों की बाबी के रहने वाले गोविंद ने रतनगढ़ थाने में शिकायत की थी। उसने पुलिस को बताया कि 25 अगस्त की रात 9 बजे उसके गांव में रहने वाले कान्हा उर्फ कन्हैयालाल ने कॉल करके शराब पीने के लिए बुलाया था। जब वह उसके घर पहुंचा, तो कान्हा और उसकी पत्नी दोनों ही घर पर नहीं थे। रात में कान्हा घर लौटा और सुबह करीब 5 बजे गोविंद को जगाकर पत्नी को खोजने की बात कही। इसके बाद गोविंद और कान्हा बाइक से अथवाकला फंटा पहुंचे।

गोविंद ने बताया कि यहां कान्हा गाड़ियों में पत्नी को तलाशने लगा। पत्नी के न मिलने पर वह परेशान हो गया और उसने गुस्से में पत्थर उठा लिया। इसी बीच, बाइक पर आए छीतरमल ने गोविंद और कान्हा को टक्कर मार दी। साथ ही छीतरमल ने कान्हा के हाथ में पत्थर देखकर अपने रिश्तेदारों को बुलाकर उसे पीटा। इसके बाद पिकअप से घसीटा, जिससे अस्पताल ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई।

इस घटना के बाद कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने कहा कि कन्हैयालाल के साथ बेहद अमानवीय घटना सामने आई है। सतना, इंदौर, देवास और अब नीमच में अमानवीयता की घटना हुई है। पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है। लोग बेखौफ होकर कानून हाथ में ले रहे हैं, उन्हें कानून का कोई डर नहीं है। सरकार नाम की चीज कहीं भी नजर नहीं आ रही है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाएं और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए, ताकि प्रदेश में कानून का राज स्थापित हो।

error: Content is protected !!