Breaking News
.

महाकाल मंदिर में वीडियो मामले में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा सख्त, एफआईआर के निर्देश, पुजारियों ने महिला के मंदिर प्रवेश पर रोक लगाने की मांग …

भोपाल। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में एक महिला द्वारा इंस्टाग्राम रील्स वीडियो बनाने का मामला तूल पकड़ गया है। प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस मामले में एफआईआर करने के निर्देश दिए हैं। हालांकि, इस मामले में वीडियो बनाने वाली महिला ने माफी मांग ली है, लेकिन प्रदेश के मंदिरों में फिल्मी गानों पर वीडियो बनाने के बढ़ते मामलों पर सरकार सख्त रुख अपनाने के मूड में है।

दरअसल हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया था, जो कि उज्जैन के महाकाल मंदिर में शूट किया गया था। इस वीडियो में एक महिला मंदिर परिसर में एक फिल्मी गाने पर अभिनय करती नजर आ रही है। यह वीडियो महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग के ठीक ऊपर बने ओंकारेश्वर मंदिर परिसर में मौजूद पिलरों पर फिल्माया गया था। जैसे ही यह वीडियो सामने आया लोगों ने इस पर नाराजगी जतानी शुरू कर दी।

मंदिर के पुजारियों ने भी इस रील्स पर आपत्ति जताई और महिला के मंदिर में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। मामला बढ़ता देख महिला ने वीडियो को सोशल मीडिया से हटा लिया था और माफी भी मांग ली। महिला ने एक वीडियो शेयर कर कहा कि “मेरा मकसद किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। मैं आगे से इस बात का ध्यान रखूंगी।”

वहीं इस पूरे मामले पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कड़ी आपत्ति जताई है। गृहमंत्री ने कहा “यह बहुत गंभीर विषय है और सरकार ने भी इसे गंभीरता से लिया है। यह आपत्तिजनक इसलिए भी है क्योंकि यह इस तरह की तीसरी या चौथी घटना है.” गृहमंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि “अब अगर कोई शिकायत आई तो बहुत ज्यादा सख्ती हो जाएगी। भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने का और धार्मिक स्थलों पर ऐसा ना किया जाए। इसलिए मैंने वीडियो देखते ही तत्काल उज्जैन एसपी को निर्देश दिए थे कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कराई जाए।”

error: Content is protected !!