Breaking News
.

सरकारी टीचर की पहली पत्नी प्रेग्नेंट हुई तो दे दिया तलाक…

इंदौर। सरकारी टीचर ने इंदौर आकर पत्नी को तीन तलाक दे दिया। 2014 में दोनों की शादी हुई थी। तीन महीने बाद ही 5 लाख की डिमांड कर पत्नी को घर से निकाल दिया। बाद में समझौता होने पर इंदौर में किराए से कमरा लेकर रखा। शनिवार-रविवार को उज्जैन से इंदौर आने लगा। 2019 में उज्जैन में ही टीचर ने चोरी-छिपे दूसरी शादी कर ली। पहली पत्नी प्रेग्नेंट हुई तो इंदौर आकर उसे तलाक देकर चला गया।

मामला सिंकदराबाद कॉलोनी का है। यहां रहने वाली महिला की शिकायत पर पति एजाज खान मेव निवासी गौतम मार्ग रोड नामदारपुरा जीवाजीगंज (उज्जैन) के खिलाफ पुलिस ने तीन तलाक के मामले में केस दर्ज किया है। पीड़िता ने बताया कि एजाज 15 अक्टूबर 2021 को उसके घर आया था। घर खर्च के लिए लगे प्रकरण को वापस लेने की बात करने लगा। जब उसने ऐसा करने से इनकार किया तो आरोपी ने उस पर कई आरोप लगाए और तीन बार तलाक कहकर चला गया। पीड़िता के मुताबिक अधिकारियों के चक्कर लगाने के बाद केस दर्ज हो सका। पीड़िता के एक छह साल का बेटा है। 9 महीने की प्रेग्नेंट है।

महिला ने बताया कि दोनों की शादी 29 मई 2014 में हुई थी। शादी के तीन महीने बाद 5 लाख की मांग कर उसे घर से निकाल दिया गया। महिला अपनी मां के पास आ गई। इसके कुछ दिन बाद मध्यस्ता कर समझौता करा दिया गया। एजाज ने इंदौर में ही कमरा ले लिया और शनिवार-रविवार इंदौर आने लगा। 2018 में उसने फिर परेशान करना शुरू कर दिया। महिला थाने में शिकायत की तो उसने फिर साथ में रहने की बात कही।

एजाज ने इसी बीच उज्जैन में अपने परिवार की मर्जी से 6 जनवरी 2019 में दूसरी शादी कर ली। शादी के कुछ दिन बाद इंदौर में रहने वाली दूसरी पत्नी को यह बात पता चली। दोनों के बीच फिर विवाद हुआ। एजाज ने दूसरी पत्नी को छोड़ने की बात कही, लेकिन तब ऐसा नहीं किया। कुछ दिन पहले दोनों में मोबाइल पर कहासुनी हुई। इस बीच एजाज इंदौर आया और घर खर्च सहित अन्य प्रकरण वापस लेने की बात करने लगा। पीड़िता ने पहले दूसरी पत्नी का साथ छोड़ने की बात कही। इस पर एजाज ने उसे तीन बार तलाक कहा ओर छोड़कर चला गया।

error: Content is protected !!