Breaking News
.

सूबेदार, उपनिरीक्षक एवं प्लाटून कमाण्डर पदों पर भर्ती की तैयारी के लिए नि:शुल्क शारीरिक एवं प्रारंभिक लिखित परीक्षा प्रशिक्षण शिविर …

राजनांदगांव । जिला प्रशासन द्वारा पुलिस विभाग में सूबेदार, उपनिरीक्षक एवं प्लाटून कमाण्डर पदों पर भर्ती की तैयारी के लिए आज दिग्विजय स्टेडियम राजनांदगांव में नि:शुल्क शारीरिक एवं प्रारंभिक लिखित परीक्षा प्रशिक्षण शिविर प्रारंभ किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने युवाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि प्रतियोगी परीक्षा में सफल होने वाले हमारे बीच के ही सामान्य बच्चे होते हैं। हमें इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए कि वे सफलता प्राप्त कर सकते है, तो हम भी सफल हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि कोई भी लक्ष्य कठिन या असंभव नहीं होता। इसके लिए कड़ी मेहनत तथा समर्पण की भावना होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि नाविक की धैर्यता एवं कुशलता धारा के विपरीत दिशा में होती है। इसी तरह हम भी चुनौतियों का सामना करते हुए सफलता प्राप्त कर सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए रणनीति बनाना जरूरी होता है। परीक्षा की तैयारी के बीच एक मजबूत पक्ष और दूसरा कमजोर पक्ष होता है। हमें मजबूत पक्ष को और मजबूत तथा कमजोर पक्ष को दूर करने का प्रयास करना चाहिए।

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए 4-5 अभ्यर्थी ग्रुप बनाएं और पढ़ाई से संबंधित विभिन्न चर्चा गु्रप के माध्यम से करनी चाहिए। किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए पाठ्यक्रम एवं इसके विषयों का ज्ञान जरूर होना चाहिए। जिससे इसके अनुरूप तैयारी की जा सके। उन्होंने कहा कि अधिक पुस्तक पढऩे की अपेक्षा सीमित आवश्यकता वाले पुस्तकों का अध्ययन बार-बार करना चाहिए।

जीवन में सफल होने के लिए पूरी ताकत लगाकर कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर युवाओं के लिए नि:शुल्क शारीरिक एवं प्रारंभिक लिखित परीक्षा प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। इसके लिए योग्य शिक्षकों द्वारा तैयारी कराई जाएगी।

महापौर श्रीमती हेमा देशमुख ने कहा कि शासन की योजनाएं स्वसहायता समूह, महिलाओं, किसानों तथा युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने लाई गई हैं। शासन की योजना सभी को रोजगार प्रदान करने की है। शासन निरंतर युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए कार्य कर रही है और राज्य स्तर पर अनेक योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिससे युवाओं को आगे बढऩे की प्रेरणा मिल सके। उन्होंने कहा कि युवा प्रयास करते रहे और उन्हें सफलता जरूर मिलेगी।

युवा मितान क्लब के माध्यम से युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। यदि हम किसी भी लक्ष्य को पाने का उद्देश्य बना लेते हैं, तो हमें सफलता जरूर मिलती है। जिला प्रशासन द्वारा प्रतियोगी परीक्षा में युवाओं की सफलता के लिए नि:शुल्क प्रशिक्षण प्रारंभ किया गया है, जिसका अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहिए।

पीटीएस पुलिस अधीक्षक इरफान उल रहीम खान ने कहा कि सफलता प्राप्त करने के लिए हमें पूरा प्रयास करना चाहिए। इसके लिए मानसिक रूप से तैयार रहना चाहिए। पुलिस परीक्षा की तैयारी के लिए पढ़ाई के साथ शारीरिक गतिविधियां जरूरी है। हमें दुनिया में स्वयं को स्थापित करने के लिए मेहनत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि नौकरी सफलता की पहली सीढ़ी हो सकती है, अंतिम नहीं। इसके लिए लगातार मेहनत करते रहे।

इस दौरान विभिन्न अधिकारियों ने प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के संबंध में अपने अनुभव प्रतियोगियों के मध्य साझा किए। प्रशिक्षण शिविर में प्रशिक्षु नगर पुलिस अधीक्षक गौरव राय, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, डिप्टी कलेक्टर गिरिश रामटेके ने युवाओं को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए रणनीति बनाकर पढऩे और सफलता के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर विकासखंड क्रीड़ा अधिकारी रणविजय प्रताप सिंह सहित अन्य अधिकारी एवं अभ्यर्थी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!