Breaking News
.

लगातार दूसरे वर्ष मोटिवेशनल स्ट्रिप्स और गुजरात साहित्य अकादमी ने हर्षिता दावर को किया सम्मानित …

वैश्विक संस्था मोटिवेशनल स्ट्रिप्स और गुजरात साहित्य अकादमी ने लेखक हर्षिता डावर को सर्टिफिकेट ऑफ ऑनर से सम्मानित किया है। लेखिका-कवयित्री हर्षिता डावर भारत की एक प्रमुख लेखिका-कवयित्री हैं, जो बहुत कम उम्र से ही ज्वलंत कथा और कविता लिख ​​​​रही हैं। वह सभी भारतीय लेखकों के लिए एक रोल मॉडल रही हैं और इस तरह के उच्च कद का अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार जीतकर सभी के लिए एक शक्ति सशक्तिकरण और प्रेरणा रही हैं।

मोटिवेशनल स्ट्रिप्स दुनिया का सबसे सक्रिय लेखक मंच है। इसमें 163 देशों के लेखक भागीदारी करते हैं और इसके पेज पर आने वाले मासिक विज़िटर की संख्या 10.3 मिलियन को पार कर जाती है। संस्था ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर वर्ष 2021 के लिए गुजरात साहित्य अकादमी के साथ संयुक्त रूप से 80 देशों के 440 कवियों और लेखकों को सम्मानित किया है।

संस्था ने विश्व के 80 देशों के सर्वश्रेष्ठ और लोकप्रिय भारतीय कवियों और लेखकों को पुरस्कारों के लिए चुना है। जिसमें लेखिका-कवयित्री हर्षिता डावर को इस वर्ष साहित्य प्रतिभा के मामले में उनके शानदार योगदान के लिए प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया है। भारत से 130 कवियों एवं कवयित्रियों को चुना गया, जबकि शेष 290 को दुनिया भर से चुना गया है।

मोटिवेशनल स्ट्रिप्स द्वारा सम्मानित किए जाने के बाद लेखिका-कवयित्री हर्षिता डावर ने कहा कि भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर दूसरी बार सम्मान के लिए शामिल होना मेरे लिए भी बहुत ही आश्चर्य और गर्व की बात है।

उन्होंने कहा कि मैं मोटिवेशनल स्ट्रिप्स के संस्थापक शिजू एच पल्लीथजेथ और गुजरात साहित्य अकादमी के अध्यक्ष और दुनिया के सबसे सक्रिय लेखक मंच के संस्थापक (सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिएशन) के मुख्य सलाहकार डॉ विष्णु पंड्या को विशेष धन्यवाद के साथ ही चयन समिति का हार्दिक धन्यवाद देती हूँ।

मोटिवेशनल स्ट्रिप्स के संस्थापक, शिजू एच. पल्लीथाज़ेथ ने वैश्विक साहित्य में अपनी पहचान बनाने के लिए भारतीय कवियों और लेखकों की सराहना की है। वहीं गुजरात साहित्य अकादमी’ के अध्यक्ष डॉ विष्णु पंड्या कहते हैं कि यह क्षण विश्व साहित्य में ऐतिहासिक रहेगा, जहां हमने दुनिया के सबसे सक्रिय लेखक मंच के साथ सहयोग किया है।

error: Content is protected !!