Breaking News
.

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहेदव के नाम पर वॉट्सऐप पर उगाही, पुलिस अपराध दर्ज कर मामले की जांच में जुटी …

रायपुर। स्वास्थ्य एवं वाणिज्य कर मंत्री टीएस सिंहदेव के नाम से छत्तीसगढ़ के ठगी करने का मामला सामने आया है। ठगों ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहेदव की तस्वीर का उपयोग कर उनके विभाग के अधिकारियों को व्हाट्सएप मैसेज किया है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहेदव कार्यालय के अधिकारियों ने रायपुर के सिविल लाइन थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

शिकायत में बताया गया है कि सोशल मीडिया वाट्सएप में मंत्री के नाम एवं उनकी तस्वीर का दुरुपयोग कर 2 फर्जी मोबाइल नंबर से मैसेज किया जा रहा है। विभागीय अधिकारियों को भ्रामक संदेश भेजकर उनसे ठगी का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य एवं वाणिज्य कर मंत्री टीएस सिंहदेव के कार्यालय के अफसरों ने गुरुवार देर रात सिविल लाइंस थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। अफसरों ने पुलिस को बताया कि सोशल मीडिया वाट्सअप से मंत्री के नाम एवं उनकी फोटो का दुरुपयोग किया जा रहा है।

2 फर्जी मोबाइल नंबरों 7976620188 एवं 8369687927 से मैसेज कर विभाग के अफसरों को भ्रामक संदेश भेजकर उन्हें ठगने का प्रयास किया गया है। मोबाइल पर वाट्सअप मैसेज में अमेजन-पे गिफ्ट कार्ड के माध्यम से फर्जीवाड़ा कर रकम की ठगी करने का प्रयास किया गया है।

वाणिज्य कर विभाग में पदस्थ वाणिज्यकर उपायुक्त हेमंत सिन्हा, वाणिज्यकर उपायुक्त तरुण किरण एवं राज्य कर अधिकारी नरेश हुर्रा ने जब स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव के कार्यालय को इसकी दी। तब सच्चाई सामने आई। मंत्री कार्यालय के अफसर भी हैरान रह गए। इस तरह का मैसेज वाट्सएप पर भेजकर मंत्री सिंहदेव की छवि धूमिल करने का षड़यंत्र ठगों द्वारा रचा गया है।

मंत्री सिंहदेव के निर्देश पर सिविल लाइंस थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है। पुलिस ने धारा 417, 419, 420, 469 के तहत एफआईआर दर्ज किया है। मंत्री कार्यालय के विशेष सहायक आनंद सागर सिंह ने बताया कि साइबर सेल व सिविल लाइन में शिकायत किए हैं। विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों से कहा गया है कि ऐसे मैसेज आने पर तत्काल सूचना दें।

error: Content is protected !!