Breaking News
.

शरद पवार से फिर की मुलाकात चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने, एक दिन पहले ही मिले थे 8 दलों के नेता …

नई दिल्ली। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने एक बार फिर एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की है। इस मुलाकात के साथ ही राजनीतिक गलियारों में उथल-पुथल मच गई है। सत्तासीन खेमा इसे बड़ी चुनौती के रूप में देख रहा है और आने वाले अदृष्य परेशानियों का अंदाजा लगाने मंथन कर रहा है। तो वहीं महंगाई से त्रस्त आ चुकी जनता भी इसे नई उम्मीद का किरण बता रही है। पिछले कुछ दिनों प्रशांत किशोर और पवार के बीच यह तीसरी मुलाकात है। आज की बैठक से ठीक एक दिन पहले आठ विपक्षी दलों के नेता दिल्ली में शरद पवार के आवास पर इकट्ठा हुए थे और कई मुद्दों पर चर्चा भी हुई थी। इसमें पूर्व वित्ता मंत्री और टीएमसी नेता यशवंत सिन्हा भी शामिल हुए थे।

सूत्रों ने बताया कि किशोर और पवार के बीच करीब एक घंटे तक बंद कमरे में बातचीत हुई। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले किशोर ने 11 जून को मुंबई में पवार के आवास पर दोपहर के भोजन पर उनसे मुलाकात की थी। उन्होंने सोमवार को फिर दिल्ली में राकांपा अध्यक्ष से मुलाकात की थी।

पवार के साथ इन बैठकों ने विपक्षी दलों के भाजपा के खिलाफ तीसरा मोर्चा बनाने के लिए एक साथ आने की अटकलों को हवा दे दी है। पवार ने मंगलवार को दिल्ली में अपने आवास में आठ विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक की थी। इनमें तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल और वाम दल शामिल रहे।

हालांकि इस बैठक में भाग लेने वाले नेताओं ने कहा कि यह पूर्व वित्त मंत्री और टीएमसी उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा द्वारा बनाए राष्ट्रीय मंच की एक जैसी विचारधारा वाले लोगों की गैर- राजनीतिक मुलाकात की थी। मंगलवार को विपक्षी नेताओं से मुलाकात से पहले पवार ने उसी दिन राकांपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की भी अध्यक्षता की थी और अपनी ‘भविष्य की नीतियों, अगले लोकसभा चुनावों में उसकी भूमिका और मौजूदा राष्ट्रीय मुद्दों पर अपनी पार्टी के नेताओं के साथ विस्तारपूर्वक चर्चा की थी।

error: Content is protected !!